Breaking News उत्तर प्रदेश बड़ी खबर

एटा- डीएम-एसएसपी ने बस स्टैंड पहुंच सुबह से ही संभाली कमान,लाॅक डाऊन के चौथे दिन भी पुलिस एवं जिला प्रशासन दिखा मुस्तैद

एटा ।
पुष्पेंद्र यादव
28,03,2020

लाॅक डाऊन के चौथे दिन भी पुलिस एवं जिला प्रशासन दिखा मुस्तैद, डीएम-एसएसपी ने बस स्टैंड पहुंच सुबह से ही संभाली कमान,एनसीआर क्षेत्रों से आ रहे लोगों को चिकित्सकीय परीक्षण स्क्रीनिंग के बाद खाना और वाहन मुहैया कराकर भेजा घर।

यूं तो लाॅक डाऊन के पहले दिन से लेकर अब तक सबने देखा कि इससे सबसे ज्यादा असुविधा उन लोगों को हो रही है जो एनसीआर क्षेत्रों में रहकर अपना जीवन यापन कर रहे थे, कारखाने और काम बंद होने से उनके पास वापस अपने अपने घरों को लौटने के अलावा कोई चारा नहीं है। जिसको जो साधन मिला वो उससे, नहीं मिला तो पैदल ही , ये एक ऐसी वास्तविकता है जिससे मुंह नहीं फेरा जा सकता, ऐसे जरुरतमंद लोगों की सहायता के लिए पहले ही दिन से कमान संभाली एटा जिले के डीएम सुखलाल भारती और एसएसपी सुनील कुमार सिंह ने जनपदीय मीडिया और विभिन्न संगठनों द्वारा दिए गए सुझावों को ध्यान में रखते हुए लोगों को इस विपरीत परिस्थिति से निकालने का खाका तैयार किया। जिसमें जनपद स्तर पर एक सामुदायिक रसोई तथा आश्रय स्थल का अस्थायी तौर पर निर्माण कराकर लाॅक डाऊन से प्रभावित निराश्रित लोगों को रहने, खाने और चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं। साथ ही ऐसे प्रभावित लोग जिनके संबंधी या परिजन अन्य जनपदों में उपचाराधीन हैं या अन्य किसी विशेष कारण से फंसे हुए हैं, उन्हें भी हर संभव सहायता दिलाई जा रही है। इसी क्रम में जनपदीय सीमा में आए हुए लाॅक डाऊन से प्रभावित लोगों का मेडिकल चेकअप कराकर उन्हें लंच पैकेट उपलब्ध कराये गये, उसके बाद उन्हें वाहनों से उनके गंतव्य स्थान तक भिजवाया गया है। भिजवाए गए यात्रियों में 11600 का चिकित्सकीय परीक्षण के बाद रोडवेज बसों, प्राइवेट बसों तथा अन्य उपलब्ध वाहनों को सैनिटाइज कराकर उनसे उनके गंतव्यों के लिए भिजवाया गया है। आप को बता दें कहां कितने यात्रियों को भेज गया है फर्रुखाबाद 2800, मैनपुरी 2100, कन्नौज 2100, इटावा 1500, औरेया 1100, कानपुर नगर 1500, लखनऊ 300 हरदोई 200 लोगों को उनके घर भेजा गया है।

One india 24 लाइव के लिए एटा से पुष्पेंद्र यादव की रिपोर्ट