Breaking News उत्तर प्रदेश

करनैलगंज,गोंडा -ऑपरेशन मातृ वंदन” सृष्टि का आधार है मातृ स्वयंसेवको ने महिलाओं को किया जागरूक

रिपोर्ट वीरेंद्र कुमार

डॉ राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक डॉक्टर समीर सिन्हा एवं जनपद गोंडा के नोडल अधिकारी डॉ जितेंद्र सिंह के सफल मार्गदर्शन में बैकुण्ठ नाथ महाविद्यालय, करनैलगंज, गोंडा में कार्यक्रम अधिकारी डॉ संजय शुक्ल एवं डॉ. संतोष मिश्र के नेतृत्व में राष्ट्रीय सेवा योजना की प्रतिभागी गोल्डी तिवारी शिवानी मिश्रा सहित अन्य स्वयं सेवकों ने महिलाओं को जानकारी देते हुए कहा कि
सृष्टि का आधार है जननी कोविड-19 की इस कष्टकारी समय में गर्भवती महिलाओं के प्रति चिंता और संवेदना के बढ़े हुए स्तर का अनुभव सभी कर रहे हैं।

गर्भवती महिलाओं की युमिनिटी दूसरे लोगों की तुलना में कमजोर होती है। इसी चिंता और संवेदना को आधार बनाकर राष्ट्रीय सेवा योजना कर्नलगंज में मातृ नामक एक पहल की है।
गोण्डा : पुलिस के साथ मारपीट, मुकदमा दर्ज,

जिसके अंतर्गत स्वयंसेवक ने अपने आसपास के क्षेत्र में रहने वाली गर्भवती महिलाओं का विवरण रख रहे हैं। इसके साथ साथ महिलाओ को हरी साग सब्जी फल दूध और पौष्टिक आहार लेते है।समय समय पर डॉ. की सलाह लेते रहे और उन्हें महिला चिकित्सक एंबुलेंस तथा स्थानीय प्रशासन के आपातकालीन नम्बर बता रहे है एवं अन्य महत्वपूर्ण नम्बर दिवाल में चस्पा कर रहे हैं। जिससे आपातकालीन में सहायता प्राप्त कर सकें। गोल्डी तिवारी बबली मोहनी काजल सिंह कोमल आदि ने सोशल डिस्टेंस को ध्यान में रखते हुए गांव-गांव जाकर लोगों को वर्तमान समय में करोना वैश्विक महामारी के संबंध में गांव के लोगों को बचाव का तरीका बतलाया।

प्राची गुप्ता ने लोगों को यह भी बताया कि हमें पश्चात संस्कृति को अपनाकर जैसे गले लगाना हाथ मिलाना आदि अपने भारतीय परंपराओं के अनुसार रहकर काफी हद तक करोना वायरस से बचा जा सकता है। महाविद्यालय के प्राक्टर डॉ अनिल त्रिपाठी व एनएसएस के कार्यक्रम अधिकारी श्री शुक्ल के निर्देशन में महाविद्यालय की स्वयं सेविकाओं व छात्रों ने निरंतर अपने क्षेत्र में जरूरतमंद लोगों की सहायता कर रहे हैं। जैसे जरूरतमंद लोगों को खाना खिलाना, मास्क वितरण करना वह कोविड-19 से सब को जागरूक करना आदि राष्ट्रीय सेवा योजना का लक्ष्य मैं नहीं आप हैं को अपनाते हुए सभी से अपील किया कि संकट की इस घड़ी में घबराइए नहीं बल्कि सावधानी बरतें सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखें वह हाथों को समय-समय पर धोते रहिए।

सादर
डॉ. जितेंद्र सिंह
नोडल अधिकारी
जनपद गोण्डा

कार्यक्रमअधिकारी
डॉ. संजय शुक्ल
डॉ. संतोष मिश्र