Breaking News उत्तर प्रदेश

कर्नेलगंज गोण्डा – बदलते परिवेश में आवश्यकता है जीवन शैली तय करने की- सौरव शाह

करनैलगंज (गोण्डा)। उक्त विचार राष्ट्रीय सेवा योजना उत्तर प्रदेश के यूनिसेफ के साथ ऑनलाइन आयोजित मेगा प्रशिक्षण शिविर में बोलते हुए राष्ट्रीय सेवा योजना के राष्ट्रीय निदेशक ने व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि समस्या बदलाव को रास्ता देती है। आवश्यकता है वैचारिक क्रांति लाने की और इसके लिए राष्ट्रीय सेवा योजना एक उत्तम प्लेटफार्म है। करोना की इस विभीषिका में राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक एवं कार्यक्रम अधिकारी पूरे मनोयोग से राष्ट्र हित में कार्य कर रहे हैं। अतः शासन का दायित्व है कि उन्हें पहचान मिले। संवाद की अहम भूमिका होती है, अतः संवाद निरंतर बनाए रखना चाहिए।इससे नए रास्ते भी निकलेंगे। प्रशिक्षण में 2755 लोग ऑनलाइन जुड़े एवं 250 लोग यूट्यूब के माध्यम से जुड़े इस प्रकार कुल 3005 लोगों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया। अंशुमाली शर्मा राज्य संपर्क अधिकारी उत्तर प्रदेश ने सभी प्रशिक्षणार्थियों का स्वागत किया एवं डॉ अशोक श्रुति क्षेत्रीय निदेशक में धन्यवाद ज्ञापन किया।गोंडा जनपद के जनपद नोडल अधिकारी जितेंद्र सिंह ने बताया कि इस मेगा प्रशिक्षण में जनपद के महाविद्यालयों के राष्ट्रीय सेवा योजना के 19 कार्यक्रम अधिकारियों सहित 102 स्वयं सेवकों व् सेविकाओं ने प्रतिभाग करके प्रशिक्षण लिया ।