Breaking News बड़ी खबर राष्ट्रीय

कांग्रेस ने नहीं बनने दी लेह-मनाली के बीच रोड,लद्दाख के काउंसलर का बड़ा आरोप

लद्दाख: भारत-चीन सीमा विवाद के बीच लद्दाख के जंसकार के काउंसलर ने कांग्रेस पर बड़ा आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि साल 2004 से 2014 के बीच कांग्रेस ने लेह-मनाली मार्ग का निर्माण नहीं होने दिया. वाजपेयी सरकार ने परियोजना को मंजूरी दी थी.

जंसकार के काउंसलर स्टांजिन लप्पा ने Zee News से कहा, ‘यूपीए सरकार में राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी सड़क के निर्माण में देरी की गई. साल 2004 से 2014 तक किसी भी अहम सड़क पर कोई काम नहीं हुआ. कांग्रेस ने लेह-मनाली रोड के निर्माण में लापरवाही दिखाई. साल 2007 में लेह-मनाली सड़क बनकर तैयार होनी थी. अटल बिहारी वाजपेयी सरकार ने लेह-मनाली रोड प्रोजेक्ट को मंजूरी दी थी.’

जान लें कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार के मुकाबले मोदी सरकार में भारत सीमा पर मजबूत हुआ है. साल 2008 से 2014 तक यूपीए सरकार में सीमा के पास 1 सुरंग का निर्माण हुआ, 7,270 मीटर लंबे पुल बनाए गए और 3,610 किमी सड़कें बनीं जबकि मोदी सरकार में साल 2014 से 2020 तक 6 सुरंगें बन चुकी हैं और करीब 19 सुरंगों के निर्माण की योजना है. इसके अलावा मोदी सरकार में पिछले 6 साल में 14,450 मीटर लंबे पुल बनाए गए और 4,764 किलोमीटर सड़कें बनीं.