Breaking News उत्तर प्रदेश बड़ी खबर

कानपुर- एनकाउंटर के दौरान SO शिवराजपुर महेश यादव की फोन पर हुई थी बेटे से बात, बोले थे…

कानपुर- उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) में अपराधी विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने हमला कर दिया. इस दौरान फायरिंग में 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए. शहीदों के परिवारीजन रो-रो कर बेहाल हैं. शिवराजपुर के एसओ महेश यादव भी इस हमले में शहीद हो गए हैं. उनके बेटे ने बताया कि एनकाउंटर के दौरान फोन पर पापा से बात हुई थी. उन्होंने मुठभेड़ होने की सूचना देने के बाद फोन रख दिया था.

मेडिकल के बाद तैयारी करके देश की सेवा करेंगे

शिवराजपुर थानाध्यक्ष महेश यादव के बेटे विवेक यादव ने बताया कि देर रात उनकी उनके पिता से बात हुई थी. उन्होंने यह कहकर फोन काट दिया था कि वो एक मुठभेड़ में हैं. तभी से उनको अपने पिता की चिंता होने लगी. कुछ देर बाद उनके पिता के शहीद होने की खबर आई और वो पोस्टमार्टम हॉउस पहुंच गए. विवेक ने बताया कि वो मेडिकल की तैयारी कर रहे हैं. उनको पिता की शहादत पर गर्व है और वो भी मेडिकल के बाद तैयारी करके देश की सेवा करेंगे.

उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक हिस्ट्रीशीटर बदमाश विकास दुबे को पकड़ने गई यूपी पुलिस की टीम पर ताबड़तोड़ फायरिंग की गई, जिसमें 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए. वहीं 7 पुलिसकर्मी अभी भी जिंदगी और मौत से अस्पताल में जूझ रहे हैं. यूपी पुलिस पर हमले की ये सबसे बड़ी घटना बताई जा रही है. पता चला है कि गांव में पुलिस पर बदमाशों ने एके-47 से फायरिंग की. मामले में डीजीपी ने कहा कि अभी तक जो सूचना मिली है, उसमें बदमाशों द्वारा सॉफिस्टिकेटेड वेपन का इस्तेमाल किया गया. हमारी फॉरेंसिंक टीमें मौके पर पहुंच गई हैं, जांच के बाद ही इस पर कुछ कहा जा सकता है.

गांववालों का समर्थन था अपराधियों को

डीजीपी ने बताया कि ऐसी भी सूचना मिली है कि विकास दुबे को गांव वालों का भी समर्थन था. वहीं हमले के दौरान आसपास के कई मकानों से भी फायरिंग की सूचना मिली है. फिलहाल हम सभी पहलुओं की जांच कर रहे हैं. इस घटना को हमने चुनौती के रूप में लिया है और हम प्रदेशवासियों को आश्वस्त करना चाहते हैं कि अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई जारी रहेगी.