Breaking News उत्तर प्रदेश बड़ी खबर

कौशाम्बी-चौदह साल से इंसाफ़ के लिए भटक रहे बुजुर्ग को गुमराह कर रहे जिम्मेदार, भूमिधरी पर दबंग कर रहे निर्माण

** **

. प्रदेश की योगी सरकार ने भूमि अधिग्रहण के खिलाफ मुहिम चलाई थी जिसके चलते प्रदेश भर में भूमि माफियाओं से अवैध कब्जा की गई भूमि पर जोरोशोर से कार्यवाई भी हुई लेकिन कौशाम्बी में अभी भी भूमि पर कब्ज़ा किया जा रहा।
हालांकि इसकी जानकारी जिले के जिम्मेदार अफसरों तक है लेकिन राजस्व कर्मियों और पुलिस की मिली भगत के चलते कब्जेदारों पर कार्यवाही नहीं हो रही बल्कि उनसे मिलकर ग़लत रिपोर्ट बनाकर बड़े अधिकारियों को गुमराह किया जा रहा।
मामला कौशाम्बी के थाना कड़ाधाम के बगल के गांव रौज़ेसैफ खा का है , शेर मोहम्मद ने दो दशक पहले अपनी ज़मीन किराये पर राजेंद्र साहू को दी थी पूर्व में ब्लॉक प्रमुख रहने वाले राजेंद्र साहू ने उस भूमि को दूसरे राजेन्द्र साहू नाम के व्यक्ति को बेच दी।
राजेंद्र हर साल उस भूमि पर निर्माण करवाता है।
शेर मोहम्मद ने अपनी ज़मीन में चकरोड के लिए कुछ हिस्सा छोड़ रखा था अब उसको भी दबंग नहीं छोड़ रहे।
पिछले 14 सालों से शेर मोहम्मद अपनी जमीन के लिए राजस्व विभाग से गुहार लगा रहे हैं लेकिन मौके पर नापजोख करने वाले कानूनगों कम नाप कर गलत रिपोर्ट बना रहे हैं।
शेर मोहम्मद ने बताया कि हर बार बड़े अधिकारी मौके पर पुलिस को जाने का कहते हैं लेकिन पुलिस नहीं पहुचती।
पूर्व में तहसीलदार ने बिना कागज़ देखे कब्ज़ादार के माफिक नाप किया था जिसपर उन्होंने आपत्ति जताई थी वर्तमान में भी तहसीलदार को भी इस बारे में बताया गया मगर उनकी सुनवाई नहीं कि जा रही।
कानूनगों की गलत नाप पर और उनके साथ हो रहे अन्याय को लेकर वह अब मुख्यमंत्री जी से मदद की गुहार लगा रहे हैं।
कब्जेदार छोटे मोटे इलाकाई नेताओं को सामने लाकर लगातार कब्ज़ा कर रहा है जिसका साथ जिम्मेदार भी दे रहे हैं शेर मोहम्मद ने बताया कि अगर जल्दी इंसाफ़ न मिला तो मुख्यमंत्री के पास जाकर शिकायत करने को बाध्य होंगे।