Breaking News उत्तर प्रदेश

कौशाम्बी- मजदूरों ने बचाई ग्राम प्रधान की जान मनरेगा को लेकर दबंगों ने प्रधान को घेरा

.. मनरेगा कार्य को लेकर प्रधान को मारने के लिए घेरा, मजदूरों ने बचाया, गाँव में तनाव पुलिस बल मौजूद।

. पुरानी कहावत, जिसकी लाठी उसकी भैंस, की प्रथा अभी भी समाज में प्रचलित है जिसका नज़ारा देखने को कभी कभार मिल ही जाता है।
मामला कौशाम्बी के थाना सैनी इलाके के गनपा गाँव का है जहां तक नापजोख के बाद ग्राम प्रधान ने मनरेगा कार्य शुरू करवाया ही था कि उसी भूमि पर गाँव के कुछ लोग अड़चन लगाने लगे।
मनरेगा कार्य हो ही रहा था कि उसी गांव के विकास पटेल ,राजेश पटेल, मैकू, वीरसिंह अपने दर्जनों साथियों के साथ पहुंचे और जबरन काम रुकवा दिया।
काम रुकने की सूचना पर पहुचे प्रधान रामकुमार मौर्या को उन दबंगों ने घेर लिया और उनपर हमला बोल दिया।
प्रधान को पिटता देखकर काम कर रहे लगभग 200 मजदूर अपने प्रधान को बचाने के लिए दौड़े।
घटना को अंजाम देने आए दबंगों ने मजदूरों पर भी हमला बोल दिया।
प्रधान रामकुमार ने अपनी जान बचाते हुए पुलिस को फोन किया और एक घर मे खुद को छिपा लिया।
सूचना मिलते ही सैनी पुलिस भारी बल के साथ गाँव पहुंची तो फिर से काम लगवाया।
पुलिस ने घेराबंदी कर राजेश और विकास को पकड़ लिया है जिसे थाना लाया गया है।
देर रात पुलिस की मौजूदगी में काम चलता रहा, थाना पहुंचे प्रधान ने पुलिस को गाँव के दबंगों के नाम तहरीर दी है।
पुलिस पूरे लोगों की तलाश में जुट गई है।