Breaking News

नई दिल्ली:इमरान खान को सता रहा है खौफ उड़ चुकी है रातो की नींद

नई दिल्ली: इमरान खान (Imran Khan) ने जबसे पाकिस्तान (Pakistan) की बागडोर संभाली है तब से पाकिस्तान दिन दोगुनी रात चौगुनी रफ्तार से बर्बादी की तरफ बढ़ रहा है. इमरान खान बड़े-बड़े वादे करके सत्ता में तो आ गए. लेकिन हर मोर्चे पर नाकाम रहे. ऐसे में कोरोना काल इमरान सरकार के ताबूत में आखिरी कील साबित हो रहा है. इमरान खान डरे हुए नजर आ रहे हैं. एक दो नहीं बल्कि ऐसे पांच खौफ हैं जिन्होंने इमरान खान की नीदें उड़ा दी हैं. इमरान खान की सत्ता खतरे में है. इकोनॉमी बर्बाद हो चुकी है और अब तो पाकिस्तान के एटम बम को भी खतरे में बताया जा रहा है.

कोरोना (Coronavirus) काल पूरी दुनिया पर भारी पड़ रहा है. लेकिन नापाक मुल्क पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के लिए कोरोना काल किसी बुरे सपने से कम नहीं. एक ऐसा सपना जो जागते सोते हमेशा उनको बेचैन रखता है. कोरोना को पाकिस्तान संभाल नहीं पा रहा और रही सही मुसीबत पाकिस्तान की नापाक हरकतों के बाद सख्त हुए हिंदुस्तान ने बढ़ा दी है. जिसकी वजह से इमरान खान खौफ में हैं.

ये हैं इमरान खान के वो पांच खौफ जिन्होंने उनकी नींद उड़ा दी है
– कोरोना से तबाही
– बर्बाद इकोनॉमी
– भारत का हमला
– छिनेगा एटम बम?
– तख्तापलट लगाएंगे बाजवा

पाकिस्तान में कोरोना से संक्रमण और मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है. इमरान के लॉकडाउन खोलने के फैसले के बाद कोरोना संक्रमण बेहद खतरनाक हो जाएगा. पाकिस्तान में पहले से बर्बाद इकोनॉमी अब पूरी तरह से बर्बाद हो चुकी है. भारत में आतंकी हमलों के बाद इमरान खान को भारत के बड़े हमले का डर सता रहा है. इमरान के पूर्व साथी जावेद मियांदाद ने डर जाहिर किया है कि मुल्क का एटम बम छिन जाएगा और जिस तरह से इमरान खान कोरोना काल में फेल साबित हुए हैं. फौज इमरान खान को सत्ता से बाहर भी कर सकती है.
कोरोना तो पाकिस्तान के लिए बड़ी मुसीबत साबित ही हो रहा है लेकिन इमरान खान को बड़ा खौफ इस बात का सता रहा है कि कहीं आतंकी हमलों से नाराज भारत पाकिस्तान से बालाकोट से बड़ा बदला न ले ले. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पोखरण में हुए परमाणु परीक्षण को याद करके जो कुछ कहा उससे इमरान खान की चिंता और बढ़ गई होगी.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है- 1998 में पोखरण परीक्षण ने यह भी दिखाया कि एक मजबूत राजनीतिक नेतृत्व किस तरह का फर्क ला सकता है.
इमरान खान को सबसे अधिक खतरा भारत के इसी नेतृत्व से है जो पाकिस्तान को घर में घुसकर सबक सिखाने को तैयार है. सिर्फ इमरान खान ही क्यों पूरे पाकिस्तान को न्यू इंडिया से डर लगता है. यही वजह है कि जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी हमलों और भारत की कार्रवाई में हिजबुल कमांडर रियाज नायकू के मारे जाने के बाद पाकिस्तान ने आसमान में गश्त बढ़ा दी है. कहीं भारत बड़ा हमला न कर दे.

लेकिन पाकिस्तान को सिर्फ भारत के हमले का डर नहीं सता रहा. पाकिस्तान को इस बात का डर भी सता रहा है कि कहीं जिस एटम बम पर वो इतराता है वो उससे छिन न जाए और ये डर सामने आया है पूर्व क्रिकेटर जावेद मियांदाद के बयान से.

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद के मुताबिक, मुल्क पर बढ़ते कर्ज की वजह से उसके एटमी हथियार खतरे में हैं. अगर पाकिस्तान आईएमएफ जैसे संगठनों का कर्ज नहीं चुकाया तो वो हमारा एटम बम ले जाएंगे. इतना ही नहीं, मियांदाद ने इन कर्जों को चुकाने के लिए एक बैंक अकाउंट भी खोल लिया है और उसमें लोगों से पैसा जमा करने की अपील की है.