Breaking News नई दिल्ली बड़ी खबर

नई दिल्ली:महाराष्ट्र में हुए सड़क हादसों में घर जा रहे 16 मजदूरों की मौत हो गई जबकि 100 से ज्यादा श्रमिक घायल

नई दिल्ली: लॉकडाउन की वजह से बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर दूसरे प्रदेशों से अपने घरों की ओर लौट रहे हैं. मजदूरों को घरों तक पहुंचाने के लिए सरकारें ट्रेन और बस चलाकर तमाम प्रयास भी कर रही हैं. लेकिन मजदूर फिर भी सैकड़ों किलोमीटर का सफर पैदल तय करके घर जाने को मजबूर हैं. ऐसे में मंगलवार देर रात देश के तीन राज्यों उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार और बुधवार को महाराष्ट्र में हुए सड़क हादसों में घर जा रहे 16 मजदूरों की मौत हो गई जबकि 100 से ज्यादा श्रमिक घायल हो गए.

पहली घटना उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर की है. यहां बुधवार देर रात को एक बड़ी दर्दनाक खबर आई. इस दुर्घटना में 6 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई अन्य घायल हुए हैं. जिनमें भी कुछ की हालत गंभीर है. पैदल घर जा रहे मजदूरों को एक तेज रफ्तार रोडवेज बस ने कुचल दिया है.

बता दें कि देर रात पंजाब से पैदल ही वापस लौट रहे मजदूर जब सिटी कोतवाली इलाके में पहुंचे तो पीछे से आ रही एक तेज रफ्तार रोडवेज बस ने उन्हें कुचल दिया. जिसमें 6 की दर्दनाक मौत हो गई और कई अन्य घायल हैं. ये सभी बिहार के मूल निवासी थे और पंजाब से पैदल ही वापस अपने घर लौट रहे थे.

जानकारी के मुताबिक पंजाब से पैदल ही वापस लौट रहे बिहार के 6 मजदूरों को बुधवार देर रात मुजफ्फरनगर-सहारनपुर स्टेट हाईवे पर घलौली चेकपोस्ट से आगे रोहाना टोल प्लाजा के पास तेज रफ्तार रोडवेज बस ने कुचल दिया. जिससे 6 मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई और उनके साथी घायल हो गए.
इस दुखद घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस प्रशासन में हडकंप मच गया. फिर मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में ले लिया और घायल मजदूरों को जिला अस्पताल लाकर भर्ती करवाया. पुलिस के अनुसार मृतक मजदूर बिहार के गोपालगंज जिले के रहने वाले हैं, जो पंजाब से पैदल ही वापस लौट रहे थे.

वहीं दूसरा हादसा मध्य प्रदेश के गुना में हुआ. यहां सड़क हादसे में 8 मजदूरों की मौत हो गई है. गुना में एक कंटेनर और यात्री बस की टक्कर हो गई है. जिसमें 8 मजदूरों की मौत हो गई जबकि 50 से ज्यादा घायल हुए हैं. घायल मजदूरों को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

बता दें कि गुना के कैंट थाना क्षेत्र में बुधवार देर रात ये दुखद घटना हुई. जानकारी के मुताबिक लगभग 65 मजदूर कंटेनर में सवार होकर महाराष्ट्र से उत्तर प्रदेश जा रहे थे. इस दौरान गुना बाईपास पर सामने से आ रही यात्री बस और कंटेनर की भिड़ंत हो गई. हादसे के बाद कंटेनर का ड्राइवर फरार हो गया है.

इस दर्दनाक एक्सीडेंट की खबर सुनते ही गुना प्रशासन में हड़कंप मच गया. हादसे के बाद मौके पर पहुंचकर पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया.