Breaking News नई दिल्ली बड़ी खबर मध्य प्रदेश

नई दिल्ली-कांग्रेस के लिए ज्योतिरादित्य सिंधिया पहले महाराजा थे, इस्तीफे के बाद माफिया हो गए?: शिवराज सिंह चौहान

ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा देने के बाद मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ बीजेपी नेता ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने पूछे है कि जिस कांग्रेस के लिए सिंधिया पहले महाराजा थे, अब वे माफिया हो गए? उन्होंने इसे कांग्रेस का दोहरा चरित्र करार दिया है।

मध्य प्रदेश में हाईवॉल्टेज ड्रामे के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलने के बाद उन्होंने पार्टी छोड़ी।

इससे पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ से मिलने उनके आवास पर जा रहे दिग्विजय सिंह ने कहा कि बीजेपी ने कांग्रेस विधायकों को कर्नाटक भेजने के लिए चार्टर्ड प्लेन की व्यवस्था की थी। उन्होंने इसके सबूत होने का भी दावा किया। दिग्विजय सिंह ने इसे मध्य प्रदेश की जनता के साथ धोखा करार दिया। उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए किया गया, क्योंकि कमलनाथ ने माफियों के के खिलाफ कार्रवाई की।

विधानसभा का समीकरण
मध्य प्रदेश में 230 विधानसभा सीट हैं। दो विधायकों का निधन हो चुका है। कांग्रेस के पास 114 विधायक हैं। सरकार के लिए जरूरी आंकड़ा 115 है। कांग्रेस को चार निर्दलीय, 2 बसपा और एक सपा विधायक का समर्थन है। उसके पास कुल 121 जबकि भाजपा के पास 107 विधायक हैं।