Breaking News नई दिल्ली बड़ी खबर

नई दिल्ली: जान लें दावे का सच,क्या पतंजलि की कोरोना दवा पर रोक लगाने वाले डॉक्टर पर हुई कार्रवाई?

नई दिल्ली: योग गुरू बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि योगपीठ ने दो दिन पहले कोरोना (Coronavirus) की दवा कोरोनिल बनाने का दावा किया था. इस बीच सोशल मीडिया (Social Media) पर दावा किया जा रहा है कि बाबा रामदेव के कोरोना दवा पर रोक लगाने वाले डॉक्टर को आयुष मंत्रालय से हटा दिया गया है. वायरल हो रहे इस मैसेज का सच पीआईबी की फैक्ट चेक टीम ने बताया है.

क्या किया जा रहा दावा-

ट्विटर पर एक मैसेज में दावा किया जा रहा है कि बाबा रामदेव के दवा कोरोनिल पर रोक लगाने वाले डॉक्टर को आयुष मंत्रालय से हटा दिया गया है. मैसेज में दावा किया गया कि डॉक्टर का मकसद आयुर्वेद के प्रचार को रोकना था.
जानिए दावे का पूरा सच

पीआईबी की फैक्ट चेक टीम के मुताबिक, आयुष मंत्रालय ने ऐसी किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं की है. मंत्रालय ने हाल के दिनों में किसी भी डॉक्टर या चिकित्सा अधिकारी को किसी भी ड्यूटी या सेवा से नहीं हटाया है.
आपको बता दें कि पतंजलि के कोरोना की दवा के दावे पर आयुष मंत्रालय ने कहा था कि उसे इस दवा के संबंध में तथ्‍यों के दावे और वैज्ञानिक शोध के संबंध में कोई जानकारी नहीं है. इसके साथ ही मंत्रालय ने जांच होने तक दवा के प्रचार पर भी रोक लगा दी है.