Breaking News नयी दिल्ली बड़ी खबर राष्ट्रीय

पालघर मामले में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की चुप्पी पर सवाल उठाए तो कांग्रेस और भाजपा के नेता भिड़े

नई दिल्ली, । एक निजी चैनल के पत्रकार ने पालघर मामले में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की चुप्पी पर सवाल उठाए तो कांग्रेस और भाजपा के नेता भिड़ गए। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एडिटर्स गिल्ड से पत्रकार के खिलाफ कार्रवाई की मांग की तो भाजपा नेता अमित मालवीय ने गहलोत पर पलटवार करते हुए कहा-ऐसा नहीं चलेगा। इस मामले में कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला और पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने भी प्रतिक्रिया दी है। उधर, पत्रकार के खिलाफ रायपुर और बिलासपुर में केस दर्ज कराए गए हैं।उधर, छत्तीसगढ़ में पत्रकार के खिलाफ तीन लोगों ने केस दर्ज कराए हैं। गहलोत ने ट्वीट कर कहा कि सोनिया गांधी पर टिप्पणी निंदनीय है। पत्रकार ने सारी सीमाएं लांघ दी हैं। मैं एडिटर्स गिल्ड से पूछना चाहता हूं कि क्या यह हमेशा पत्रकारिता की गरिमा गिराने वाला नहीं है। राजीव चंद्रशेखर को पत्रकार को तत्काल बर्खास्त कर देना चाहिए । इस पर भाजपा नेता अमित मालवीय ने कहा कि पत्रकार ने सही बात कही है। मोदी की आलोचना करके पद्मश्री लेना और राज्यसभा जाना ठीक है, लेकिन जब कोई सोनिया के बारे में सच बताए तो उसे ‘बर्खास्त’ कर दिया जाए, ये नहीं चलेगा। सोनिया गांधी पर पत्रकार की टिप्पणी को लेकर छत्तीसगढ़ के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बुधवार शाम को रायपुर के सिविल लाइन थाने में तहरीर दी है। इसके आधार पर पुलिस ने पत्रकार के खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने, गुमराह करने और छवि धूमिल करने की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिए गए हैं। बिलासपुर में भी केस दर्ज किया गया है।