Breaking News उत्तर प्रदेश बड़ी खबर स्वास्थ्य

बहराइच – कोरोना वायरस को लेकर जागरूक,सतर्क व सजग रहें लोग: शम्भु कुमार

 

रिपोर्ट- रमेश कुमार विश्वकर्मा/महिमा विश्वकर्मा

अब तक कोई भी व्यक्ति कोरोना से पाजिटिव नहीं पाया गया

बहराइच – जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द चैहान के साथ जनपद बहराइच में कोरोना वायरस की रोकथाम के उद्देश्य से जिला चिकित्सालय बहराइच में स्थापित किये गये 10 बेड के कोरोना आईसोलेशन वार्ड का निरीक्षण कर विभिन्न व्यवस्थाओं का जायज़ा लिया। कुमार ने जिला चिकित्सालय में स्थापित किये गये 10 बेडेड कोरोना आईसोलेशन वार्ड के निरीक्षण के दौरान चिकित्सा विभाग द्वारा की गयी तैयारियों का जायज़ा लेने के साथ-साथ सभी प्रकार प्रोटेक्टिव एक्यूपमेन्ट, ई.पी.ई. किट, मास्क तथा सेपरेट बाथरूम इत्यादि का अवलोकन करते हुए मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को निर्देश दिया कि शासन द्वारा जारी एडवाईज़री के अनुसार सभी प्रकार की तैयारी पूर्ण रखी जाय तथा पूरी सतर्कता बरती जाय।
निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. सुरेश सिंह ने बताया कि जिला चिकित्सालय में आईसोलेशन वार्ड के अतिरिक्त चाॅदपुरा पुराना अस्तपताल स्थित ट्रामा सेन्टर में 25 बेडेड क्वेरेन्टाइन फेसिलेटेड एरिया डेवलप किया गया है। यहाॅ पर संक्रमित रोगियों के सम्पर्क में आये लोगों को रखने की व्यवस्था की गयी है। डाॅ. सिंह ने यह भी बताया कि नेपाल बार्डर के रूपईडीहा व बलईगांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम एसएसबी के सहयोग से बाहर से आने वाले लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर रही है। अब तक कोई भी व्यक्ति कोरोना से पाजिटिव नहीं पाया गया है।
मौके पर मौजूद नोडल अधिकारी डा. अनिल कुमार ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव हेतु प्रत्येक आशा को ब्लाक स्तर पर प्रशिक्षित कर डोर-टू-डोर पहुंचकर लोगों को कोरोना वायरस के लक्षण व बचाव हेतु जानकारी प्रदान की जा रही है। साथ ही जनमानस की जन-जागरूकता हेतु हैण्डबिल एवं पोस्टर भी सामुदायिक स्थलों पर लगाये जा रहे हैं व आमजन में वितरित किये जा रहे हैं। कुमार ने सीएमएस एवं अन्य चिकित्सा कर्मियों को निर्देश दिया कि विपरीत परिस्थिति से बचाव हेतु पूरी तैयारी रखें। चिकित्सालय में आने वाले सामान्य रोगियों को सही जानकारी प्रदान की जाये ताकि लोगों में किसी प्रकार की भ्रम की स्थिति न रहे। अब तक जनपद में कोई भी मरीज़ पाज़ीटिव न पाये जाने पर संतोष व्यक्त करते हुए सभी सम्बन्धित अधिकारियों को पूरी सतर्कता बरतने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने आमजन से अपील की है कि कोरोना वायरस को लेकर भयभीत न हों बल्कि पूरी तरह से सतर्क रहें, व्यक्तिगत साफ-सफाई विशेषकर हाथों की सफाई पर ध्यान दें। यदि किसी व्यक्ति में कोरोना वायरस से सम्बन्धित लक्षण दिखाई दे तो उसे तत्काल सरकारी चिकित्सालय में लायें ताकि सम्बन्धित को चिकित्सीय सहायता प्रदान की जा सके। जिलाधिकारी ने लोगों से यह भी अपील की है कि कोरोना वायरस को लेकर अफवाहों पर ध्यान न देकर बचाव के तरीकों जैसे हैंड वाशिंग, भीड़-भाड़ वाले स्थलों से बचे, अभिवादन स्वरूप हाथ न मिलायें, सर्दी, खाॅसी एवं छींक आने पर साफ कपड़े सेे मुॅह ढकें तथा साफ-सफाई पर ध्यान दें।
इसके पश्चात जिलाधिकारी ने चाॅदपुरा पुराना अस्पताल स्थित ट्रामा सेन्टर में 25 बेडेड क्वेरेन्टाइन फेसिलेटेड एरिया का भ्रमण कर यहाॅ पर की गयी व्यवस्थाओं का जायज़ा लिया। यहाॅ पर मौजूद मीडिया प्रतिनिधियों को जिलाधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस से लड़ने के लिए जिला प्रशासन द्वारा सभी प्रकार के एहतियाती कदम उठाये गये हैं साथ ही शासन स्तर से जारी की गयी एडवाईज़री के अनुसार चिकित्सालय में माकूल बन्दोबस्त भी किये गये हैं।
उन्होंने बताया कि भारत-नेपाल सीमा स्थित अन्तर्राष्ट्रीय चेक-पोस्ट रूपईडीहा के माध्यम से आने-जाने वाले लोगों की जाॅच के लिए राउण्ड-द्-क्लाक मेडिकल स्टाफ की तैनाती कर दी गयी है जो आने-जाने वाले लोगों की जाॅच कर रही है। इस अवसर पर मौजूद मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. डी.के. सिंह ने बताया कि वर्तमान समय में मौसम में हो रहे बदलाव के कारण अक्सर लोगों को ज़ुकाम, खाॅसी व बुखार हो रहा है। डाॅ. सिंह ने बताया कि मौसम के बदलाव के कारण होने वाले ज़ुकाम, खाॅसी व बुखार से लोग घबरायें नहीं बल्कि चिकित्सक के माध्यम से आवश्यक उपचार करायें।