Breaking News उत्तर प्रदेश

बहराइच-कोरोना वाॅरियर्स की भूमिका निभा रही हैं महिला स्वयं सहायता समूह की सदस्य

रिपोर्ट रमेश कुमार विश्वकर्मा/महिमा विश्वकर्मा

उत्तर प्रदेश बहराइच- कोविड-19 के दृष्टिगत उत्पन्न विषम परिस्थितियों में कोरोना वायरस-19 के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के उद्देश्य से राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन अन्तर्गत विकास खण्ड फखरपुर की ग्राम पंचायत अचैलिया में गठित राना प्रेरणा महिला स्वयं सहायता समूह हैण्डवाश, फिनायल, टाॅयलेट क्लीनर का निर्माण कर वैश्विक महामारी के विरूद्ध महाभियान में योगदान कर रहा है। इसके अलावा जनपद में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन अन्तर्गत गठित 85 समूहों की 320 महिला सदस्यों द्वारा 45750 मास्क तैयार किये गये हैं।
उल्लेखनीय है कि मंगलवार को शाम जिलाधिकारी शम्भु कुमार व पुलिस अधीक्षक डाॅ. विपिन कुमार मिश्र ने अन्य अधिकारियों के साथ ग्राम अचैलिया का भ्रमण कर राना प्रेरणा महिला स्वयं सहायता समूह द्वारा निर्मित उत्पादों हैण्डवाश, फिनायल, टाॅयलेट क्लीनर इत्यादि का निरीक्षण किया। इस अवसर पर स्वयं सहायता समूह की मुखिया मुमुखशा जैन ने बताया कि उनके समूह में 11 महिला सदस्य शामिल है। समूह द्वारा हैण्डवाश, फिनायल, टाॅयलेट क्लीनर के साथ-साथ सिटिज़न इंफार्मेशन बोर्ड (शिलालेख) का निर्माण भी किया जा रहा है।
समूह की मुखिया द्वारा यह भी बताया गया कि स्वयं सहायता समूह द्वारा निर्मित उत्पादों की आपूर्ति क्षेत्रीय आॅगनबाड़ी केन्द्रों व पंचायत भवनों को की जाती है। जिससे प्रत्येक सदस्य को लगभग तीन-चार हज़ार रूपये प्रति माह की अतिरिक्त आय हो जाती है। मुखिया ने यह भी बताया कि समूह द्वारा निर्मित उत्पादों के लिए आई.एस.ओ. प्रमाण-पत्र प्राप्त करने हेतु आवेदन किया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि 02 वर्ष पूर्व प्रारम्भ किये गये स्वयं सहायता समूह में सम्मिलित सभी महिला सदस्यों को अतिरिक्त आय हो जाने से उनके परिवार की आर्थिक स्थिति में सुधार भी हुआ है।
जिलाधिकारी कुमार ने स्वयं सहायता समूह द्वारा निर्मित किये जा रहे उत्पादों की गुणवत्ता, पैकिंग इत्यादि का जायज़ा लेते हुए समूह के सदस्यों की हौसला अफज़ाई करते हुए विकास विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि समूह के सदस्यों को हर संभव सहयोग प्रदान करें। सम्बन्धित अधिकारी इस बात का प्रयास करें कि समूह के उत्पादों की बिक्री का दायरा मात्र आॅगनबाड़ी व पंचायत भवन तक सीमित न रहे बल्कि प्राईवेट सेक्टर में भी उत्पाद अपनी पहचान बनाये। समूह की मुखिया ने डीएम, एसपी, सीडीओ व अन्य अधिकारियों को समूह द्वारा निर्मित उत्पादों का पैकेट भी भेंट किया गया।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द चैहान, ज्वाईन्ट मजिस्ट्रेट प्रशिक्षु आई.ए.एस. सूरज पटेल, परियोजना निदेशक डीआरडीए अनिल कुमार सिंह, उपायुक्त एन.आर.एल.एम. सुरेन्द्र कुमार गुप्ता, खण्ड विकास अधिकारी फखरपुर तेजवन्त सिंह सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे।