Breaking News उत्तर प्रदेश बड़ी खबर

बहराइच -ग्राम पंचायतों में कोई भी असहाय, गरीब व्यक्ति भूखा न रहने पाये: जिलाधिकारी

रिपोर्ट रमेश कुमार विश्वकर्मा/महिमा विश्वकर्मा
बहराइच 30 मार्च। नोवल कोरोना (कोविड-19) के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव तथा दैनिक मज़दूरों/श्रमिकों को सहायता धनराशि उपलब्ध कराये जाने के सम्बन्ध में गत दिवस इन्टीग्रेटेड कन्ट्रोल रूम में जिलाधिकारी शम्भु कुमार की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें पुलिस अधीक्षक डाॅ. विपिन कुमार मिश्र, मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द चैहान, मुख्य राजस्व अधिकारी प्रदीप कुमार यादव, अपर जिलाधिकारी जयचन्द्र पाण्डेय, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. सुरेश सिंह, पीडी डीआरडीए अनिल कुमार सिंह सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे।
जिलाधिकारी ने जनपद के समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया है कि ग्राम पंचायतों में कोई भी असहाय, गरीब व्यक्ति भूखा न रहे, इसके लिए ग्राम प्रधानों से सहभागिता सुनिश्चित करते हुए ग्राम में भोजन तैयार कराया जाय और भोजन की पैकेटिंग कराकर वितरित कराया जाय और इस पूरी कार्यवाही में सोशल डिस्टेन्सिंग का भी पालन किया जाय। कुमार ने मुख्य राजस्व अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी तथा समस्त अधिशाषी अधिकारियों को निर्देशित किया है कि ग्राम पंचायतों में लेखपालों की शत-प्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित कराये जाने के साथ-साथ ग्राम पंचायतों विशेषकर कस्बों, चैराहों एवं मुख्य आबादी वाले स्थानों पर तथा नगर पंचायतों के मुख्य स्थानों पर सेनेटाइज़्ड कराने की कार्यवाही सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी कुमार ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिया है कि सभी उप स्वास्थ्य केन्द्रों/ए.एन.एम. सेन्टरों पर ए.एन.एम. एवं अन्य स्टाफ की उपस्थिति सुनिश्चित कराये जाने के साथ-साथ ग्राम पंचायतों में स्थित ए.एन.एम. सेन्टरों पर प्रसव की व्यवस्था भी सुनिश्चित कराते हुए निरन्तर अनुश्रवण भी किया जाय।
ग्राम पंचायतों के अन्तर्गत सब्ज़ी व अन्य आवश्यक सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित कराये जाने के सम्बन्ध में परियोजना निदेशक डीआरडीए द्वारा बताया गया कि समस्त बी.डी.ओ. द्वारा सब्ज़ी व आवश्यक सामग्री की दुकाने चिन्हित कर ली गयी हैं। जिनके द्वारा जनपद के मुख्य थोक दुकानदारों से सामग्री ले जाकर जनसामान्य को उपलब्ध करायी जायेगी। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिया कि इस कार्य में ग्राम प्रधान की सहभागिता भी सुनिश्चित की जाये तथा सब्ज़ी व अन्य आवश्यक सामग्री के परिवहन के लिए वाहन इत्यादि की व्यवस्थाओं को भी देख लिया जाय और आवश्यकतानुसार एसडीएम से समन्वय कर कार्रवाई की जाये। ग्राम पंचायत स्तर पर अधिकारियों/कर्मचारियों की उपस्थिति बनी रहे इसके लिए बीडीओ को समय व क्षेत्र का निर्धारण करने के निर्देश दिये गये।
जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि कोटेदार वार अधिकारियों/कर्मचारियों को नामित कर दिया गया है तथा शासन के निर्देशानुसार खाद्यान्न का वितरण पूर्ति निरीक्षक, बीडीओ एवं सम्बन्धित अधिकारियों एवं कर्मचारियों के माध्यम से कराया जायेगा। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि विभागों से प्राप्त सूची में ग्रामवार श्रमिकों को चिन्हित कर खाद्यान्न सामग्री का शत-प्रतिशत वितरण सुनिश्चित करायें साथ ही कार्डधारकों को दी जाने वाली सामग्रियों के सम्बन्ध में सभी नामित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को जानकारी उपलब्ध करा दी जाये और इस प्रक्रिया के दौरान सोशल डिस्टेन्सिंग का भी अनुपालन कराया जाय। वितरण कार्य में किसी प्रकार का व्यवधान आने पर सम्बन्धित प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष को अवगत कराते हुए विधिक कार्यवाही भी की जाय।
ग्राम पंचायतों में एक्टिव जाबकार्डधारक, विभिन्न प्रकार के पेंशनर, कृषि सम्मान निधि, श्रम विभाग के पंजीकृत श्रमिक, अन्त्योदय कार्ड धारक, पात्र गृहस्थी कार्डधारक के अतिरिक्त अन्य गरीब, असहाय व्यक्तियों को सहायता दिए जाने के सम्बन्ध में पीडी डीआरडीए ने बताया कि सभी विकास खण्डों में सूची तैयार हो गयी है। इस सम्बन्ध में निर्देश दिया गया कि सूची तत्काल अपर जिलाधिकारी को उपलब्ध करा दें ताकि लाभार्थियों के खाते में धनराशि भेजने की कार्यवाही की जा सके।
बैठक के दौरान श्रम प्रवर्तन अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि विभाग में पंजीकृत श्रमिकों की विकास खण्डवार सूची बनायी गयी है जिनके एकाउन्ट को अपडेट करने की कार्यवाही की जा रही है। इस सम्बन्ध में श्रम प्रवर्तन अधिकारी को निर्देश दिया गया कि श्रमायुक्त देवीपाटन मण्डल से वार्ता कर पंजीकृत सभी श्रमिकों की वास्तविक संख्या की जानकारी करते हुए पंजीकृत सभी श्रमिकों को नियमानुसार सहायता धनराशि का अविलम्ब भुगतान सुनिश्चित करे।