Breaking News उत्तर प्रदेश क्राइम

बहराईच-एसएसबी ने पकड़ी एक करोड़ की चरस एक तस्कर गिरफ़्तार

बहराईच भारत नेपाल सीमा पर 42 वी वाहिनी सशस्त्र सीमा बल के कार्यवाहक कमांडेंट शैलेष कुमार ने पकड़ीं 1 करोड़ की चरस वाहिनी की सीमा चौकी कोदिया जमुनहा के सीमा स्तंभ संख्या.641(13) के पास चौकी प्रभारी पुलिस टीम के साथ संयुक्त रूप से गश्त कर रहे थे।
जिसके कमांडर ख़ुद चौकी चौकी प्रभारी सहायक कमांडेंट लालजी गरवा व साथ में सहायक उपनिरीक्षक हीरा सिंह, मुख्य आरक्षी यशपाल ,वीरेंद्र कुमार ,आनंद थापा, भूपेंद्र हजारिका, व पुलिस की ओर से उपनिरीक्षक अमित कुमार सिंह वह दुर्गेश यादव थे।
तभी 42वी वाहिनी की खुफिया टीम की तरफ से सूचना मिली कि नेपाल की ओर से एक संदिग्ध व्यक्ति झोला लेकर भारत की सीमा मे प्रवेश होने वाला। है।जिसमें कुछ संदिग्ध सामान होने की सूचना मिली है। जिसका होलिया वगैरह गस्त टीम को बता दिया।
जैसे ही वह व्यक्ति भारत की सीमा में प्रवेश हुआ बताए गए होलिए से गस्त पार्टी ने उसे पहचान लिया और की कोशिश की लेकिन वह भागने लगा उसके पर शंका और भी ज्यादा बढ़ गई तभी जवानों ने उसे घेर कर पकड़ लिया।
चौकी प्रभारी लालजी गरबा की उपस्थिति में उस व्यक्ति की जामा तलाशी ली गई जिसमे उसके झोले से कुछ भूरे रंग का सामान प्राप्त हुआ व्यक्ति से पूछने पर उसने खुद ही कबूल कर लिया कि साहब ये चरस है। जिसे मै नेपाल से लाकर भारत में भेजता हूं जिससे मैं भारी रकम अर्जित कर अपने परिवार का पालन पोषण करता हूं ।
जिस पर जवानों ने उससे उस चरस का अधिकार पत्र मांगा जिससे वह माफी मांगने लगा कि साहब गलती हो गई जाने दो आगे से ऐसा नहीं होगा ।
अभियुक्त की पहचान संतोष गुड़िया पुत्र बोषाली गुड़िया उम्र लगभग 42 वर्ष वार्ड नंबर 7 रानी तालाब पोस्ट ऑफिस नेपालगंज जनपद बांके नेपाल राष्ट्र के रूप में हुई है।
कार्यवाहक कमांडेंट ने बताया कि चरस को सीज कर दिया गया है जिसकी कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में 1,02,00000/-(एक करोड़ दो लाख़ रुपए) आंकी गई है तथा अभियुक्त सहित चरस को पुलिस स्टेशन मल्हीपुर के सुपुर्द कर दिया गया है।