Breaking News बड़ी खबर बॉलीवुड राष्ट्रीय

रांची- बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में न्यायिक जांच की मांग की

रांची. बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे (Nishikant Dubey) ने एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत मामले में न्यायिक जांच की मांग की है. दुबे झारखंड के गोड्डा से सांसद हैं. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि बॉलीवुड में व्याप्त माफियागिरी और सिंडिकेट को खत्म करने के लिए पूर्वांचल के कलाकारों को संघर्ष का बिगुल फूंकना चाहिए. बिहार के प्रतिभाशाली एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार को मुंबई के बांद्रा स्थित अपने फ्लैट पर सुसाइड कर ली थी. सोमवार को मुंबई के मुंबई के विले पार्ले स्‍थित श्मसान घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया.
सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आत्महत्या की बात सामने आई है. मीडिया रिपोर्ट्स में उनके अवसाद का शिकार होने की बात भी कही जा रही है. महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने डिप्रेशन के एंगल की भी जांच किए जाने की बात कही. उन्होंने ट्वीट करके कहा कि मुंबई पुलिस इस पहलू की भी जांच करेगी.

अनिल देशमुख ने एक ट्वीट में लिखा- ‘जहां पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से पता चलता है कि एक्टर सुशांत सिंह राजपूत से फांसी लगाकर खुदकुशी की है. वहीं मीडिया में ऐसी खबरें हैं कि वो प्रोफेशनल दुश्मनी के कारण कथित तौर पर डिप्रेशन का शिकार थे. मुंबई पुलिस इस पहलू की भी जांच करेगी.’

सुशांत की मौत से बॉलीवुड के नेपोटिज्म पर उठे सवाल
सुशांत की मौत ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है. बॉलीवुड में जारी नेपोटिज्म पर भी सवाल उठ रहे हैं. कंगना रनौत ने भी एक वीडियो शेयर करके बॉलीवुड में जारी भेदभाव और नेपोटिज्म पर सवाल उठाए. कंगना ने अपने वीडियो में कहा, ‘सुशांत सिंह राजपूत की मौत ने सभी को झकझोर कर रख दिया है, लेकिन कुछ जो इस मामले में माहिर है कि किस तरह पैनल नैरेटिव चलाना है वे बता रहे हैं कि कुछ लोगों का दिमाग कमजोर होता है वो डिप्रेशन में आ जाते हैं और सुसाइड कर लेते हैं. वह इंजीनियरिंग के एंट्रेंस एग्जाम का रैंक होल्डर है। उसका दिमाग कमजोर कैसे हो सकता है.”

भारत की स्टार महिला पहलवान और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) बबीता फोगाट ने भी कंगना रनौत का समर्थन किया. उन्होंने फिल्म निर्माता करन जौहर पर जमकर अपना गुस्सा निकाला. उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि फिल्म इंडस्ट्री करन जौहर की बपौती है क्या, इसको मुंहतोड़ जवाब क्यों नहीं देते? उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘कंगना रनौत बहन की बात मुझे काफी हद तक सही लगती है. जो लोग छोटे शहरों से आते हैं उन लोगों के साथ वहां इस तरह का भेदभाव होता है जो नहीं होना चाहिए. फिल्म इंडस्ट्री किसी की बपौती नहीं है. भाई-भतीजावाद बॉलीवुड की सबसे बड़ी बीमारी है. मैंने खुद इसको काफी नजदीक से देखा है.”