Breaking News उत्तर प्रदेश बड़ी खबर

लखनऊ- अखिलेश यादव- यूपी की बिगड़ी कानून-व्यवस्था, ‘कोरोना-पीक’ से कैसे लड़ेगी सरकार

लखनऊ- पूरा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है. इसी बीच मंगलवार को समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने सरकार को घेरा है. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर लिखा, ‘उप्र इस समय कोरोना के साथ-साथ क़ानून-व्यवस्था की भी बिगड़ी हालत का शिकार है.’ जिस प्रकार ‘कोरोना-टेस्ट’ टाले जा रहे हैं, उसके कारण वास्तविक स्थिति का पता नहीं चल रहा है और ‘कोरोना-पीक’ कब आएगा कहा नहीं जा सकता, तो फिर सरकार बताए कि ‘कोरोना-पीक’ से लड़ने की तैयारी वो कैसे करेगी.

अखिलेश ने किया था योगी सरकार पर तंज

इससे पहले अखिलेश यादव ने एक और ट्वीट कर योगी सरकार पर तंज किया था. उन्होंने लिखा है कि ‘मुख्यमंत्री’ करोड़ों को रोज़गार का दावा कर गये रैली में, पर जाकर जनता से पूछो भाई क्या आया उसकी थैली में. अखिलेश यादव ने लिखा, ‘मनरेगा में जनता को नाममात्र के अस्थायी रोज़गार का झुनझुना देने की जगह उप्र के मुख्यमंत्री ये बताएं कि तथाकथित ‘इंवेस्टर मीट्स’ और ‘डिफ़ेंस एक्सपो’ के बाद हुए कितने करार सच में बैंकों के सहयोग से ज़मीन पर उतरे हैं व उनसे कितनों को सच्चा रोज़गार मिला है.’
उत्‍तर प्रदेश में कोरोना के 6650 एक्टिव केस
उत्‍तर प्रदेश के प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कोविड-19 ( COVID-19) के सक्रिय मामलों की कुल संख्या 6650 है. जबकि अब तक कुल 15506 मरीज ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं. साथ ही उन्‍होंने बताया कि उत्‍तर प्रदेश में कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट इस समय 66.86 फीसदी है. वहीं, उन्‍होंंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 संक्रमित 12 और लोगों की मौत हो गई. इससे प्रदेश में अब तक इस वायरस से मरने वालों की संख्या 672 हो चुकी है.