Breaking News देश -विदेश बड़ी खबर

विजय माल्या चुकाना चाहता है भारत का बकाया पैसा

लंदन

लंदन। कोरोना वायरस और लॉकडाउन के बीच शराब कारोबारी विजय माल्या ने एक बार फिर से बकाया चुकाने की पेशकश की है। भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या ने मंगलवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से कहा कि कोरोना वायरस महामारी के इस संकटपूर्ण समय में दिवालिया हो चुकी किंगफिशर एयरलाइंस द्वारा उधार ली गई ‘शत प्रतिशत राशि चुकाने’ की उनकी पेशकश पर विचार करें। विजय माल्या की भारत में कथित रूप से करीब 9,000 करोड़ रुपये के धोखाधड़ी और धनशोधन मामले में तलाश है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के बाद उनकी सभी कंपनियों ने भारत में संचालन और विनिर्माण बंद कर दिया है।

विजय माल्या ने ट्वीट किया, ‘मैंने केएफए द्वारा बैंकों से उधार ली गई राशि का 100 प्रतिशत भुगतान करने के लिए बार-बार प्रस्ताव दिया है। न तो बैंक धनराशि लेने के लिए तैयार हैं और न ही ईडी अपने एटेचमेंट जारी करने के लिए तैयार है, जो उन्होंने बैंकों की तरफ से दायर किए हैं। मुझे उम्मीद है कि वित्त मंत्री इस संकट के इस समय में (मेरी बात) सुनेंगी।’ उन्होंने आगे कहा, ‘भारत सरकार ने पूरे देश को बंद करके जो किया, वह अकल्पनीय था। हम इसका सम्मान करते हैं। मेरी सभी कंपनियों ने प्रभावी ढंग से संचालन बंद कर दिया है। सभी विनिर्माण भी बंद हैं।’ माल्या ने सरकारी मदद मांगी और कहा, ‘हम कर्मचारियों को घर नहीं भेज रहे हैं और व्यर्थ लागत का भुगतान कर रहे हैं। सरकार को मदद करनी होगी।’ उन्होंने लोगों से घर में रहने और सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील की और कहा कि वह भी ऐसा ही कर रहे हैं।