Breaking News उत्तर प्रदेश बड़ी खबर

श्रावस्ती,इकौना -पांच मजदूरो को क्वॉरेंटाइन में भेजा गया

इकौना — सीएचसी इकौना में मंगलवार को गैर जनपदों से आये पांच मजदूरो को क्वॉरेंटाइन में भेज दिया गया है। प्राथमिक विद्यालय बगहा में क्वॉरेंटाइन शीतला प्रसाद व अजय निषाद की खून की सैम्पूलिंग करके केजीएमयू लखनऊ जांच के लिए भेज दिया गया है । सीएचसी इकौना में मंगलवार को ग्राम टंडवा महंत निवासी रोहित पुत्र रामप्रताप 14 वर्ष राज्य तेलंगाना जिला ओरंगल में मजदूरी करने के लिए तीन माह पूर्व गया हुआ था । लाकडाउन के चलते काम धंधा बंद हो गया । जिससे खाने पीने के लिए मजदूर को परेशानी हो जाने से पीड़ित अपने घर लौटने के लिए पुलिस की मदद से झांसी तक ट्रक से वापस लौटकर आया । मजदूर कोई साधन न मिलने के कारण झांसी से अपने गांव टंडवा महंत सीएससी इकौना तक पैदल यात्रा करके पहुंचा है ।उसके पैरो मे छाले पडे दिखायी पड रहे है । थाना इकौना क्षेत्र ग्राम दहावर कलांँ निवासी संजय कुमार पुत्र देवेंद्र बाबू 35 वर्ष मजदूरी करने के लिए हाथरस गया हुआ था ।लाकडाउन के चलते काम धंधा बंद हो जाने के कारण हाथरस से लखनऊ होकर बहराइच तक ट्रक से आया ।इसके बाद पैदल चलकर अस्पताल इकौना मंगलवार को पहुंचा । इसी का एक साथी ग्राम दहावर कलांँ निवासी किशन पुत्र बाबूलाल किसी प्रकार पुलिस की मदद से वाहनों से बैठाकर बहराइच तक भेजवाया । बहराइच से पैदल चल कर अपने गांव के अस्पताल पंहुंचा हूंँ । मंगलवार को ग्राम जयचंदपुर कटघरा निवासी गुरु प्रसाद पुत्र बेचू दयाल उम्र 27 वर्ष दो माह पूर्व मजदूरी करने बरेली के लिए गया हुआ था लाकडाउन हो जाने के कारण ठेकेदार ने बिना पैसा दिये भाग गया और भूखे पैदल हरदोई लखनऊ बाराबंकी बहराइच होते हुए आटवे दिन घर पंहुंचा हूंँ ।मजदूर ने बताया कि रास्ते में पेट्रोल पंप वाले ने खाना बनवा कर खिलाया और पुलिस वालों ने भी खिलाने में पूरी मदद की थी । गांव का अनिल पुत्र सियाराम गौतम उम्र 17 वर्ष बरेली से साथ चल कर घर लौटकर आया है । सीएससी अधीक्षक डा0 अजय कुमार मिश्र ने बताया कि बगहा प्राथमिक विद्यालय में क्वॉरेंटाइन किए गए दो मजदूर शीतला प्रसाद 30 वर्ष व अजय निषाद 25 वर्ष की सैंपुलिंग करके इनकी जांच केजीएमयू लखनऊ भेजी जा रही गई है । जांच रिपोर्ट आने तक दोनो बगहा प्रा0 विद्यालय में क्वॉरेंटाइन रहेंगे । मंगलवार को सभी बाहरी जिलो से आये पांँचो मजदूर क्वारेंटिन मे भेज दिया गया है ।

रिपोर्ट- धर्मेन्द्र कुमार गुप्ता/के के गुप्ता श्रावस्ती