Breaking News उत्तर प्रदेश बड़ी खबर

श्रावस्ती यूपी- मानवाधिकार के खुले आम उल्लंघन करने वाली हरकत से व्यापारियों मे आक्रोश

रिपोर्ट – के. के. गुप्ता

श्रावस्ती यूपी- कस्बा इकौना  का निरीक्षण करने निकले नायब तहसीलदार ने  वर्दीधारी जवानों  से  दूकान मे बैठे रेडीमेड व्यापारी व उसके नाबालिग पुत्र को पकड़वा कर  सड़क पर सरे आम थप्पडो से मारापीटा. । मजिस्ट्रेट की गाड़ी  पर बैठे ना0 तह0/    अधिकारी की इस मानवाधिकार के खुले आम उल्लंघन करने वाली हरकत से व्यापारियों मे आक्रोश है.। व्यापारी ने  मामले की शिकायत जिलाधिकारी व मुख्यमंत्री से किया है.। बेचूबाबा चौराहे पर अजय कुमार गुप्ता की होलसेल  रेडीमेड की दूकान  है.। रोस्टर के अनुसार  उनकी दूकान बंद रहनी थी. । दूकान व मकान एक मे होने के कारण दूकान का शटर बंद था । लेकिन आवागमन के लिए साइड दरवाजा खुला था. । सायंकाल नायब तहसीलदार मुकेश शर्मा  बाजार का निरीक्षण करने निकले थे.। बेचूबाबा चौराहे पर स्थित रेडीमेड शोरूम का दरवाजा खुला देख  उनकी गाड़ी रूकी ।. गाड़ी से उतरकर वर्दीधारी होमगार्ड शोरूम के बाहर खड़े दूकानदार के नाबालिग पुत्र को दुकान से  घसीटते हुए मजिस्ट्रेट की गाड़ी तक ले गये.। व्यापारी का आरोप है कि मजिस्ट्रेट लिखे वाहन मे बैठे  नायब तहसीलदार ने नाबालिग को गंदी गंदी गालियां देते हुए थप्पडो से मारापीटा.। शोरगुल सुन व्यापारी का पिता बाहर आया तो होमगार्ड  फर्म के मालिक / व्यापारी अजयकुमार कसौंधन को भी  घसीटते हुए मजिस्ट्रेट के वाहन तक ले गये.।मजिस्ट्रेट के साथ  गाड़ी मे बैठे कर्मचारियों ने उसे गाली दी तथा नायब तहसीलदार ने उसे  दो झापड़ मारा और वाहन लेकर चल दिये.। व्यापारी ने घटना की सीसीटीवी फुटेज के साथ नायब तहसीलदार के द्वारा अमानवीय घटना को मानवाधिकार का हनन करने की शिकायत जिलाधिकारी व  मुख्यमंत्री के पोर्टल पर किया है. । घटना का वीडियो भी वायरल हो रहा है.इस घटना से व्यापारियों मे रहा है.इस घटना से व्यापारियों मे आक्रोश  व्याप्त है ।.इस संबंध मे नायब तहसीलदार ने बताया कि रोस्टर के अनुसार व्यापारी की दूकान बंद होनी चाहिए.। उसे पहले भी चेतावनी दी गयी थी .दूकान का दरवाजा खुला देख उसे बुलाकर फिर चेतावनी दी गयी.। मारपीट का आरोप निराधार है.।