Breaking News उत्तर प्रदेश बड़ी खबर

5 दिन बाद बंद ताजमहल में एक बार फिर मचा हड़कंप, बुलानी पड़ी SOS की टीम…

नई दिल्ली. 5 दिन के बाद एक बार फिर से ताजमहल (Tajmahal) परिसर में हड़कंप मच गया. ताजमहल की सुरक्षा में तैनात सीआईएसएफ (CISF) के जवान अलर्ट हो गए. तुरंत ही वाइल्ड लाइफ (Wildlife) की एसओएस टीम को मोबाइल पर सूचना दी गई. यह हड़कंप एक 5 फुट लंबे रैट स्नेक (Rat snake) निकलने के चलते मचा था.

5 दिन पहले भी ताजमहल में पानी के कूलर के पास अजगर निकला था. कोरोना (Corona) और लॉकडाउन (Lockdown) के चलते ताजमहल बंद है. लेकिन सांप और दूसरे जानवर निकलने का सिलसिला बना हुआ है. अजगर की तरह से एसओएस (SOS) की टीम ने रैट स्नेक को भी पकड़कर जंगल में छोड़ दिया.

अब पुलिस बूथ में निकला रैट स्नेक

एसओएस की मीडिया प्रभारी अर्निता ने बताया, बंद होने के चलते शांत और हरियाली वाली ताजमहल परिसर जंगली जानवरों के बीच लोकप्रिय हो गया है. सोमवार की शाम एक बार फिर ताज परिसर में रैट स्नेक निकल आया. यह रैट स्नेक ताजमहल पश्चिम गेट के अंदर स्थित लाल बिल्डिंग पुलिस चेक पोस्ट कमरे के अंदर निकला था. हैड कांस्टेबल वीरपाल सिंह की निगाह सांप पर गई थी. उन्होंने ही एसओएस को हेल्पलाइन नंबर (+91 9917109666) पर सांप दिखाई दिए जाने की सूचना दी थी.
Rat snake, Taj Mahal, corona, lockdown, wildlife, sos, रैट सांप, ताजमहल, कोरोना, तालाबंदी, वन्यजीव, एसओएस5 दिन पहले ताजमहल के अंदर यह अजगर निकला था.

ज़हरीला नहीं है, लेकिन काटने से होता है तेज़ दर्द

वाइल्डलाइफ एसओएस को कॉल करने वाले हेड कांस्टेबल, वीरपाल सिंह ने बताया, “हमने चेक पोस्ट के कमरे से अजीब आवाज़ आती सुनी, जब पास जा कर देखा तो वहाँ एक बड़ा सांप देख कर हम डर गए. चूंकि, वाइल्डलाइफ एसओएस की टीम ने पहले भी परिसर से इस तरह के बचाव अभियानों को अंजाम दिया है, इसलिए हमने उन्हें तुरंत इसकी सूचना दी.”

वाइल्डलाइफ एसओएस के डायरेक्टर कंज़रवेशन प्रोजेक्ट्स, बैजूराज एम.वी ने बताया, “रैट स्नेक ज़हरीले कोबरा से मिलते जुलते हैं, इसलिए अक्सर उनके देखे जाने पर लोग दहशत में आ जाते हैं. रैट स्नेक एक गैर विषैली प्रजाति है और उत्तरी भारत में इसे ‘धमन’ के नाम से भी जाना जाता है. खतरा महसूस करने पर यह ज़ोर से आवाज़ें निकालते हैं. रैट स्नेक ज़हरीले नहीं होते पर इनके काटने पर बहुत दर्द हो सकता है.”

5 दिन पहले निकला था 7 फुट लंबा अजगर

बैजूराज एम.वी ने कहा, “इस महीने में यह ताजमहल परिसर से हमारी टीम द्वारा बचाया गया दूसरा साँप है. पिछले सप्ताह, ताजमहल के पश्चिमी गेट की तरफ ताज म्यूजियम के बाहर सात फुट लंबा अजगर देखा गया था, जो की हमारी टीम ने सफलतापूर्वक पकड़ा था. एक अन्य घटना में, वाइल्डलाइफ़ एसओएस टीम को ताजमहल से थोड़ी दी दूरी पर कुआँ खेड़ा गांव के एक घर में किचन स्लैब पर 4 फुट लंबे ब्लैक हेडेड रॉयल स्नेक की सूचना मिली थी. सांप को सुरक्षित रूप से रेस्कूय कर उसे बचाया और बाद में वापस जंगल में छोड़ दिया गया.”