Breaking News नई दिल्ली बड़ी खबर राष्ट्रीय

9 दिन में 900 किलोमीटर का पैदल सफर,तीन दिन से नहीं नसीब हुआ था खाना

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के चलते देश के कई राज्यों में मजदूर फंस कर रह गए हैं. 9 दिनों में 900 किलोमीटर का सफर पैदल ही कर भूखे-प्यासे 5 मजदूर बुधवार को यूपी के लखीमपुर खीरी में पहुंचे.

चंडीगढ़ से बलरामपुर के लिए पैदल यात्रा पर निकले 5 मजदूर बीती रात करीब 10 बजे 900 किलोमीटर पैदल चलकर लखीमपुर पहुंचे. पांचों मजदूरों से जब आजतक की टीम ने सवाल किया कि आप तो कहां से चले हो और कितने दिन हो गए हैं, क्या खाना खाया है?

लॉकडाउन से त्रस्त मजदूर, पैदल तय करने निकले 1400 KM का सफर

तीन दिन से नहीं मिला खाना

करीब 900 किलोमीटर तक पैदल चलकर आए मजदूरों का कहना था कि पिछले 3 दिनों से उन्हें कहीं कोई खाना पानी नहीं मिला है. 3 दिन से भूखे पेट पैदल चलने वाले मजदूरों की बात सुनकर उनके लिए लंच पैकेट की व्यवस्था की गई.

न खाना-न छत, गांव के लिए पैदल ही निकल पड़ी 8 माह की गर्भवती

चंडीगढ़ से पैदल ही बलरामपुर जाने वाले एक प्रमोद ने बताया, “हम चंडीगढ़ में दिहाड़ी पर मजदूरी करते हैं. हम लोगों को पैदल चलते हफ्ते भर से ज्यादा हो गया है. हम लोग 3 दिनों से लगातार भूखे थे. 3 दिनों बाद आज हमको यहां खाना नसीब हुआ है.

बता दें कि गांवों से काम करने के लिए गए दूसरे राज्यों में 25 मार्च से फंसे मजदूरों के सब्र का बांध टूटने लगा है और सभी मजदूर अपने घरों की ओर पैदल ही निकलने लगे हैं. अभी भी मजदूरों का सड़कों पर निकलने का सिलसिला थम नहीं रहा है.