Breaking News उतराखंड बड़ी खबर

उत्तराखंड: मसूरी के LBS एकेडमी में कोरोना का कहर, 33 ट्रेनी IAS निकले पॉजिटिव

देहरादून. उत्तराखंड के मसूरी (Mussoorie) में स्थित एलबीएस एकेडमी (LBS Academy) कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गया है. यहां 33 ट्रेनी आईएएस की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव निकली है. बताया जा रहा है कि हाल ही में ये सभी ट्रेकिंग पर गए थे. फिलहाल, 32 ट्रेनी आईएएस को एकेडमी में ही आइसोलेट कर दिया गया है. तो वहीं एक ट्रेनी को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अब कोविड-19 टेस्ट के लिए 4 दर्जन से अधिक आईएएस का सैम्पल लिया जाएगा.

इधऱ, कोरोना काल में उत्तराखण्ड की जनता का रोडवेज़ बसों में विश्वास नहीं हो पा रहा है. यही वजह है कि हर साल फेस्टिव सीज़न में रोज़ाना 2.50 करोड़ तक की कमाई करने वाला परिवहन निगम इस बार सवा करोड़ रुपये में ही सिमट गया है. कोरोना का ख़ौफ़ इस कदर है कि सार्वजनिक परिवहन में सफ़र करने में लोग अब भी कतरा रहे हैं. हालत यह है कि दिल्ली, ऋषिकेश, हरिद्वार, रुड़की के लिए तो रोडवेज़ बसों को यात्री ढूंढे नहीं मिल रहे हैं. चंडीगढ़, जयपुर, हरियाणा के लिए चलने वाली वॉल्वो बसों में यात्रियों की संख्या एक तिहाई रह गई है.

आधी हुई कमाई
उत्तराखंड रोडवेज़ के जीएम (संचालन) दीपक जैन के अनुसार इस बार त्यौहारी सीज़न में आने वाली भीड़ भी गायब रही. पिछले साल 11 से 15 नवंबर के बीच रोडवेज़ की कमाई का प्रतिदिन का औसतन 2 करोड़ 55 लाख रुपये रहा लेकिन इस साल यह औसत 1.26 करोड़ रुपये ही रहा. एक नज़र इन पांच दिन में रोडवेज़ की कमाई पर.

बद्रीनाथ धाम के कपाट शीत काल के लिए हुए बंद
देवभूमि के चारों धामों में प्रमुख भगवान बद्री विशाल (Badri Vishal) के कपाट आज दोपहर में पूजा-अर्जना के बाद शीतकाल के लिये बंद हो गये हैं. कपाट बंद होने की प्रक्रिया के आखिरी दिन आज प्रात: भगवान श्री नारायण की विशेष पूजा अर्चना की गई, जिसके बाद मुख्य पुजारी रावल जी और देवस्थानम बोर्ड और सैकडों श्रद्दालुओं की मौजूदगी में भगवान बद्री विशाल जी के कपाट इस वर्ष शीतकाल के लिये बंद किये गये.