Breaking News खेल झारखंड बड़ी खबर

क्रिकेट के बाद खेती में हाथ आजमा रहे महेन्द्र सिंह धोनी, ₹40 किलो बेच रहे टमाटर

रांची. भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) ने भले ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया हो, लेकिन उनके नाम का जलवा अब भी बरकरार है. क्रिकेट के बाद धोनी अब खेती में हाथ आजमा रहे हैं. उनके गृह प्रदेश झारखंड (Jharkhand) की राजधानी रांची के बाजारों में धोनी के खेतों की सब्जियां खूब बिक रही हैं. इन सब्जियों की चर्चा अब रांची से निकलकर अन्य राज्यों में भी हो रही है. सब्जी बाजारों में जिस सब्जी की सबसे ज्यादा चर्चा है, वह है धोनी के खेत का टमाटर (Tomato). धोनी ने अपने 43 एकड़ के फार्म हाउस में 3 एकड़ से ज्यादा में सिर्फ टमाटर की खेती की है.

खेत में पौधों पर टमाटर पकने के बाद धोनी के फार्म हाउस से इसे बाजारों में भेजा जा रहा है. TO 1156 किस्म का यह टमाटर बाजार में ₹40 प्रति किलो में बेचा जा रहा है. रांची के सैंबो में धोनी का फार्म हाउस है. यहीं पर टमाटर के साथ ही दूसरी सब्जियां भी उगाई जा रही हैं. टमाटर मार्केट में भी आ गया है. जानकार बताते हैं कि धोनी के फार्म हाउस में लगने वाले टमाटर खास किस्म के हैं. बताया जा रहा है कि बाजारों में इनको अच्छा रिसपॉन्स मिल रहा है. धोनी यही चाहते हैं कि उनके साथ जो एक पूरी टीम खेती कार्यों से जुड़ी है, फार्म हाउस से बेची जा रही सब्जियां उनकी आमदनी का जरिया बने. धोनी ने अपने फार्म हाउस में टमाटर के अलावा बड़े पैमाने पर गोभी और मटर की भी खेती की है. दरअसल धोनी को मटर बहुत पसंद है. धोनी के एग्रीकल्चर कंसल्टेंट रोशन कुमार बताते हैं कि धौनी ने कहा है कि जब भी वह फार्म हाउस आएंगे तो यहां की मटर खेत में बैठकर खुद खाएंगे.

इसी साल लिया संन्यास
बता दें कि महेन्द्र सिंह धोनी ने इसी साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के हर फॉरमेट से संन्यास का ऐलान किया. हालांकि आईपीएल में इस बार भी वे चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान रहे, लेकिन आईपीएल में उनका प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा. इसके चलते वे आलोचकों के निशाने पर रहे.