Breaking News उत्तर प्रदेश राजनीति

मिशन-2022 के लिए जुटी कांग्रेस, जानिए प्रियंका के लखनऊ दौरे का पूरा शेड्यूल

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में 2022 के विधानसभा चुनावों (UP Assembly Election 2022) के मद्देनजर सभी सियासी दलों ने अपनी तैयारियां युद्धस्तर पर शुरू कर दी है. कांग्रेस महासचिव और UP प्रभारी प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) भी इस हफ्ते राजधानी लखनऊ (Lucknow) पहुंच रही हैं. प्रियंका गांधी 16 जुलाई को अपने 3 दिवसीय दौरे पर राजधानी लखनऊ आ रही हैं. प्रियंका गांधी इस दौरान 16, 17 और 18 जुलाई को एक ओर जहां पार्टी नेताओ और कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेगी. वहीं दूसरी ओर पार्टी के पदाधिकारियों और विभिन्न कमेटियों के साथ बैठक कर प्रियंका गांधी मिशन-2022 को लेकर एक ठोस रणनीति बनाते नजर आयेंगी.

कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी शुक्रवार 16 जुलाई को दोपहर 1 बजे लखनऊ एयरपोर्ट पर पहुचेंगी. प्रियंका एयरपोर्ट से सीधे हजरतगंज स्थित गांधी पार्क पहुच महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करेंगी. फिर प्रियंका गांधी हजरतगंज से मॉल एवेन्यू स्थित कांग्रेस मुख्यालय पहुचेंगी. जिसके बाद मिशन-2022 को लेकर प्रियंका गांधी की बैठकों का सिलसिला शुरू हो जायेगा.

लगातार चलेगा बैठकों का सिलसिला

जानकारी के अनुसार प्रियंका सबसे पहले उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के साथ बैठक करेंगी. फिर कांग्रेस के पूर्व मंत्रियो, सांसदों और विधायकों जैसे वरिष्ठ नेताओं के साथ एक अहम बैठक कर विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के बेहतर प्रर्दशन को लेकर एक विशेष रणनीति बनाएंगी. इसके बाद प्रियंका गांधी राजधानी लखनऊ के गोखले मार्ग स्थित अपने नये आशियाने शीला कौल की कोठी में रात्रि विश्राम करेंगी.

योगी सरकार को घेरने की बनाएंगी रणनीति

दूसरे दिन 17 जुलाई को भी कई अहम बैठकें होनी हैं. इस दौरान प्रियंका उत्तर प्रदेश के सभी जिला और शहर अध्यक्षों के साथ बैठक कर संगठन निर्माण के साथ अब तक की गई चुनावी तैयारियों का जायजा लेंगी. प्रियंका एक के बाद एक कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्षों और फ्रंटल संगठनों के साथ भी कई अहम बैठकें करेंगी. इस दौरान प्रियंका गांधी योगी सरकार की नाकामियों के साथ कृषि-किसान, नौजवान-बेराजगारी, कानून-व्यवस्था-भ्रष्टाचार और मंहगाई जैसे मुद्दों पर योगी सरकार को घेरने की रणनीति बनायेंगी.

साथ ही कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं का उत्साहवर्धन कर उन्हें जनता से जुड़े मुद्दों को लेकर सड़क पर संघर्ष करने का भी निर्देश देंगी. वैसे प्रियंका गांधी खुद भी अपने इस दौरे के दौरान रायबरेली जैसे राजधानी लखनऊ के आस-पास के किसी जिले का भी दौरा कर सकती हैं.