Breaking News चुनाव बड़ी खबर बिहार राजनीति होम

पटना- चुनाव मैदान में चिराग पासवान की नजर ‘ननिहाल’ पर, कहा- JDU की जमानत जब्त होगी

पटना- बिहार की दो विधानसभा सीटों के लिए होने वाले उपचुनाव में लोजपा (रामविलास) भी उतर चुकी है. पार्टी कुशेश्वरस्थान में चुनाव प्रचार करेगी. लोजपा के तमाम नेता फिलहाल कुशेश्वरस्थान में कैंप कर रहे हैं. चिराग पासवान भी चुनाव में प्रचार के लिए दिल्ली से पटना पहुंच गए हैं. चिराग ने कहा कि तमाम लोजपा के नेताओं को यह जिम्मेदारी दी गई है कि वो अपनी-अपनी पंचायतों की जिम्मेदारी अच्छे से निभायें और मुझे खुशी है कि लोजपा नेता ये कर रहे हैं. कई नेता बूथ स्तर की जिम्मेदारी भी संभाल रहे हैं.

चिराग ने कहा कि हमारे नेता इस बात को सुनिश्चित करने में लगे हुए हैं इस बार लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) की जीत हो. हमलोग की जीत दोनों ही सीटों पर सुनिश्चित हो इसके लिए तमाम पार्टी के कार्यकर्ता और नेता इस मुहिम में लगे हुए हैं. मेरा भी कार्यक्रम अगले 10 दिन तक है. अगले 10 दिन तक मैं भी प्रचार करूंगा, वहीं किसी गांव में अभी रात्रि विश्राम कर प्रचार को आगे लेकर जाना है. गांव-गांव मेरा डेरा होगा. चिराग ने कहा कि तारापुर मेरा संसदीय क्षेत्र है, जबकि कुशेश्वरस्थान ननिहाल है.

पिछला चुनाव हमने जदयू को हराने के लिए लड़ा था, लेकिन इस बार लोजपा जीतने के लिए, जबकि जदयू अपनी जमानत बचाने और तीसरे स्थान के लिए लड़ाई लड़ रहा है. चिराग ने कहा कि जेडीयू अगर अपनी जमानत बचा पाए तो बड़ी उपलब्धि होगी. कश्मीर की घटना पर सांसद चिराग पासवान ने केंद्र सरकार से करवाई की मांग की है. चिराग ने बिहार सरकार से मांग करते हुए कहा कि जिनकी भी आतंकियों के द्वारा हत्या की गई है, उनके परिजनों को सरकारी नौकरी दी जाए.

बिहार में बद से बदतर हालात

चिराग पासवान ने नीतीश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि 15 सालों में खास तौर पर बिहार में बद से बदतर हालात हैं , उसके जिम्मेदार आज के दौर में सिर्फ नीतीश कुमार है. यह उनका लालच है कि इतनी कम सीटें आने और तीसरे स्थान पर रहने के बावजूद वो मुख्यमंत्री बने हैं. मुख्यमंत्री बनकर नीतीश कुमार राज्य को बर्बाद करने पर तुले हुए हैं.

पलायन बढ़ा, बेरोजगारी बढ़ी

चिराग ने कहा कि राज्य में शिक्षा ,स्वाथ्य और रोजगार मे हालत ठीक नही है. राज्य में पलायन बढ़ा है, बेरोजगारी बढ़ी है, रोजगार के लिए पलायन हो रहा है, अपराध बढ़े हैं. भ्रष्टाचार चरम में है कोई ऐसा काम नहीं है जो बिना घूस के होता है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नाक के नीचे तमाम गलत काम होते हैं. वो अपराध की घटनाएं रोकथाम लगाने में नाकाम हैं. प्रदेश की जनता मुख्यमंत्री के कुमार की नीतियों से नफरत करती है यह मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि जेडीयू इस उपचुनाव में भी तीसरे-चौथे नंबर पर रहेगा.