Breaking News बड़ी खबर बिहार

ऑनर किलिंग: बाप-बेटे काे गाेली मारने के बाद अपराधियों ने रिमांड हाेम जा रही लड़की काे पुलिस कस्टडी में मारी गोली

पटना. पटना में कोर्ट से रिमांड होम (Remand Home) आ रही लड़की को पुलिस की मौजूदगी में बाइक सवार अपराधियों ने गोली मार दी. गोलीबारी की इस घटना में लड़की और महिला हवलदार घायल हो गई हैं. दरअसल पूरा मामला ऑनर किलिंग (Honor Killing) से जुड़ा है. इस केस में सालिमपुर थाना के अलीपुर गांव के रहने वाले सत्येंद्र यादव और उसके बेटे शिशुपाल काे भी अपराधियाें ने साेमवार काे बख्तियारपुर थाना के मवेशी हाट के पास गाेली मारी दी थी जिसमें सत्येंद्र की माैत हाे गई वहीं शिशुपाल घायल हाे गया था. इस घटना के बाद अपराधियों ने लड़की को भी गोली मारी है जो उसी केस से जुड़ी है.

महिला पुलिसकर्मी भी जख्मी

बाप-बेटाें काे उस वक्त गाेली मारी गई थी जब ये दाेनाें और एक अन्य बाढ़ काेर्ट से घर लाैट रहे थे. इस घटना के कुछ देर बाद ही इन्हीं अपराधियाें ने पुलिस के साथ गाड़ी से बाढ़ काेर्ट से गायघाट स्थित रिमांड हाेम लाैट रही लड़की काे ऑनर किलिंग करने के लिए गाेली मार दी. पुलिस की गाड़ी में गाेली चलने से लड़की के साथ एक महिला हलवलदार भी जख्मी हाे गई. हवलदार को गोली शरीर में टच कर निकल गई जबकि लड़की काे बांह में गाेली लगी है. दाेनाें की हालत खतरे से बाहर है. दाेनाें का पीएमसीएच में इलाज चल रहा है.

प्रेम विवाह से जुड़ा है मामला
बाप-बेटे और पुलिस की गाड़ी पर गाेली चलाने वाले दाे-तीन बाइक पर सवार अपराधी फरार हाे गए हैं. घायल लड़की और शिशुपाल दाेनाें अलीपुर के रहने वाले हैं. दाेनाें ने एक साल पहले प्रेम-विवाह किया था. जिस वक्त दाेनाें ने विवाह किया, उस वक्त लड़की नाबालिग थी इस कारण लड़का जेल गया था. दरअसल शिशुपाल ने गांव की लड़की से प्रेम-विवाह किया था. लड़की के परिजनाें के बयान पर केस दर्ज हाेने के बाद शिशुपाल काे जेल भेजा गया था जबकि लड़की काे पीड़िता के रूप में गायघाट स्थित रिमांड हाेम भेजा गया था, बाद में शिशुपाल काे जमानत मिल गई.

एक साल से रिमांड होम में रह रही थी लड़की

लड़की एक साल में बालिग हाे गई और वह पिता के घर नहीं जाना चाहती थी. बालिग हाेने के बाद उसे पुलिस की सुरक्षा में बाढ़ काेर्ट में बयान दर्ज कराने के लिए ले जाया गया था. उसे मंगलवार काे रिमांड हाेम से छाेड़ा जाना था कि इसी बीच उसे गाेली मारी गई.

घायल के बयान पर पांच नामजद

साेमवार काे गाेली लगने से घायल शिशुपाल का पीएमसीएच में इलाज चल रहा है. उसे पीठ में गाेली लगी है. उसका पीएमसीएच में पुलिस ने फर्द बयान लिया. उसने बयान में लड़की पक्ष के पांच लाेगाें काे नामजद किया है. इस मामले में शिशुपाल के बयान पर लड़की के पिता चंदन यादव, उसके चाचा , रिश्तेदार चंदन समेत पांच काे नामजद किया गया है. एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि पुलिस नामजदाें के घर से लेकर उनके अड्डे तक छापेमारी करने में जुटी है. दाे दिनाें से पुलिस की कार्रवाई चल रही है पर सबके सब फरार हैं.

बाइक सवार अपराधियाें ने दिया घटना को अंजाम

पुलिस के मुताबिक सभी को गाेली मारने वाला एक ही गिराेह है. लड़की काे ऑनर किलिंग के मकसद से गाेली मारी गया पर वो बच गई. फाेरलेन पर वारदात करने के बाद सभी अपराधी आराम से भाग निकले. जिस वक्त लड़की पर हमला किया गया उस वक्त गाड़ी में महिला हवलदार लड़की और एक चालक था लेकिन काेई अन्य जवान हथाियार के साथ नहीं था.