Breaking News बड़ी खबर बॉलीवुड मुंबई

मुंबई- विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद बोलीं तापसी पन्नू- ‘फिर कहते हैं बॉलीवुड की कहानियां…’

मुंबई- मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के उज्जैन से कानपुर (Kanpur) लाए जा रहे शूटआउट के मुख्य आरोपी विकास दुबे (Vikas Dubey) की एक एनकाउंटर में मौत हो चुकी है. भागने की कोशिश में उसे पुलिस की गोलियां लगी. एनकाउंटर (Encounter) से पहले उस गाड़ी का एक्सीडेंट भी हुआ था, जिसमे विकास को लाया जा रहा था. इस एनकाउंटर को लेकर अब लगातार सवाल उठ रहे हैं. बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने एक ट्वीट कर इस पूरे घटनाक्रम पर तंज कसा है. बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) अपनी फिल्मों के साथ-साथ अपने बेबाक विचारों के लिए भी खूब जानी जाती हैं. वह अकसर समसामयिक मुद्दों पर बेबाकी से अपनी राय पेश करती हैं.

एक्ट्रेस तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) ने विकास दुबे (Vikas Dubey) के एनकाउंटर को लेकर ट्वीट किया और लिखा, ‘Wow, हमने इसकी उम्मीद तो बिल्कुल भी नहीं की थी. और फिर वे कहते हैं कि हमारी बॉलीवुड की कहानियां वास्तविकता से दूर होती हैं.’

तापसी पन्नू के अलावा बॉलीवुड डायरेक्टर ओनिर और एक्टर प्रकाश राज ने भी ट्वीट किया है, जो खूब वायरल हो रहा है.

आपको बता दें कि हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे साल 2001 में दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री संतोष शुक्ला हत्याकांड का मुख्य आरोपी था. साल 2000 में कानपुर के शिवली थानाक्षेत्र स्थित ताराचंद इंटर कॉलेज के सहायक प्रबंधक सिद्घेश्वर पांडे की हत्या में भी विकास दुबे का नाम आया था. कानपुर के शिवली थानाक्षेत्र में ही साल 2000 में रामबाबू यादव की हत्या के मामले में विकास दुबे पर जेल के भीतर रहकर साजिश रचने का आरोप था.

साल 2004 में केबिल व्यवसायी दिनेश दुबे की हत्या के मामले में भी विकास आरोपी था. 2001 में कानपुर देहात के शिवली थाने के अंदर घुस कर इंस्पेक्टर रूम में बैठे तत्कालीन श्रम संविदा बोर्ड के चौयरमेन, राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त बीजेपी नेता संतोष शुक्ल को गोलियों से भून दिया था. कोई गवाह न मिलने के कारण केस से बरी हो गया था.