Breaking News नई दिल्ली नयी दिल्ली बड़ी खबर राष्ट्रीय

अरुणाचल से लापता 5 युवकों को कल भारत को सौंपेगा चीन: किरेन रिजिजू

नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू (Kiren Rijiju) ने कहा कि अरुणाचल प्रदेश (Arunachal pradesh) के लापता हुए 5 युवकों को चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) शनिवार को भारत को सौंप देगी. पीएलए ने पहले पुष्टि की थी कि लापता युवकों को उनके पक्ष से पाया गया था और हैंडओवर की प्रक्रिया के तौर-तरीकों पर काम किया जा रहा था. रिजिजू ने कहा कि भारतीय सेना ने सीमा बिंदु पर पीएलए की स्थापना के लिए हॉटलाइन संदेश भेजा था.

रिजिजू ने शुक्रवार को एक ट्वीट में कहा, “चीनी पीएलए ने भारतीय सेना को अरुणाचल प्रदेश के युवकों को हमारे पक्ष में सौंपने की पुष्टि की है. सौंपने की संभावना कल यानि 12 सितंबर, 2020 तक होगी.”

7 सितंबर को लापता हुए थे युवक
इससे पहले अरुणाचल प्रदेश में बॉर्डर से चीन की सेना (PLA) द्वारा पांच भारतीयों के अपहरण करने के मामले में चीन ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि वह अरुणाचल को भारत का हिस्सा नहीं मानता. चीन ने स्पष्ट कहा कि वह अरुणाचल को हमेशा से ही चीन के दक्षिणी तिब्बत का इलाका मानता आया है. चीन का आरोप है कि 7 सितंबर को एलएसी पर तैनात भारतीय सैनिकों ने एक बार फिर ग़ैर-क़ानूनी तरीक़े से वास्तविक सीमा रेखा को पार किया और चीनी सीमा पर तैनात सैनिकों पर वार्निंग शॉट्स फ़ायर किए. चीन के मुताबिक़ चीनी सैनिक बातचीत करने वाले थे.

चीन के सरकारी अख़बार ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक़ चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता चाओ लिजिएंग ने कहा, ‘चीन ने कभी ‘कथित’ अरुणाचल प्रदेश को मान्यता नहीं दी, ये चीन के दक्षिणी तिब्बत का इलाका है.