नई दिल्ली बड़ी खबर

COVID-19: दिल्‍ली एयरपोर्ट पर हुआ एक अहम बदलाव, फोरकोर्ट से हटाई गई यूवी सैनिटाइजेशन टनल..

नई दिल्‍ली. इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Indira Gandhi International Airport) के टर्मिनल 3 (Terminal-3) से हवाई यात्रा पर जाने वाले मुसाफिरों को अब फोरकोर्ट एरिया (Forecourt Area) में लंबी कतारों से जूझने को मजबूर नहीं होना पड़ेगा. दिल्‍ली एयरपोर्ट (Delhi Airport) की निजी संचालक संस्‍था डायल (DIAL) ने मुसाफिरों की सहूलितय को ध्‍यान में रखते हुए कुछ अहम बदलाव किए हैं. इन बदलावों के तहतडायल ने फोरकोर्ट पर लगी यूवी सैनिटाइजेशन टनल (UV Sanitization Tunnel) को हटाने का फैसला किया है. यूवी सैनिटाइजेशन टनल हटने के बाद, मुसाफिरों को अब डिपार्चर टर्मिनल में प्रवेश से पहले अपने बैगेज को सैनिटाइज कराने के लिए लंबी कतारों से नहीं जूझना पड़ेगा.

 

टर्मिनल के बाहर लगाई गईं थी 8 यूवी सैनिटाइजेशन टनल
दिल्‍ली एयरपोर्ट के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसारकोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टर्मिनल थ्री के बाहर कोरकोर्ट में 8 यूवी सैनिटाइजेशन टनल लगाई गई थी. इन यूवी सैनिटाइलेशन टनल की मदद से मुसाफिरों के बैगेज को डिसइंफेक्ट किया जाता था. घरेलू उड़ान के बाद यह देखा गया कि पीक आवर्स के दौरान मुसाफिरों की लंबी कतार बैगेज डिसइंफेक्‍ट कराने के लिए लग जाती है. डायल ने यह महसूस किया क‍ि इस प्रक्रिया के चलते न केवल समय बर्बाद हो रहा हैबल्कि लोगों को भारी असहूलियत का सामना करना पड़ रहा है. चूंकिकोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए इस यूवी सैनिटाइजेशन टनल को हटाया नहीं जा सकता थालिहाजा डायल के अधिकारियों ने वैकल्पिक समाधान पर माथा पच्‍ची शुरू किया और आखिर में इन टनल को फोरकोर्ट से हटाने का फैसला ले लिया गया.

 

 इन-लाइन बैगेज हैंडलिंग सिस्‍टम के साथ लगेगी यूवी टनल
डायल के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि चूंकि दिल्‍ली एयरपोर्ट इन-लाइन बैगेज हैंडलिंग सिस्‍टम से लैस है और सभी मुसाफिरों के चेन-इन बैग इस सिस्‍टम से गुजर के जाते हैं. लिहाजायह फैसला किया गया कि क्‍यों न यूवी सैनिटाइजेशन टनल को इन-लाइन बैगेज हैंडलिंग सिस्‍टम के साथ लगा दिया जाए. इसी फैसले के तहतयूवी सैनिटाइजेशन टनल को फोरकोर्ट से हटा कर इन-लाइन बैगेज हैंडलिंग सिस्‍टम में लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई. नई व्‍यवस्‍था के तहतअब मुसाफिरों को अपना रजिस्‍टर्ड बैग लेकर सीधे चेक-इन काउंटर पर ड्रॉप करना होगा. यहां से उनका बैगेज सैनिटाइज होने के बाद इन-लाइन बैगेज सिस्‍टम के जरिए सीधे विमान तक पहुंच जाएगा. वहींहैड बैगेज को सैनिटाइज करने के लिए सिक्‍योरिटी होल्‍ड एरिया से पहले अलग यूवी टनल लगाई गई है.