Breaking News उत्तर प्रदेश क्राइम बड़ी खबर

महोबा: सस्‍पेंडेड SP पर लगाया था रंगदारी मांगने का आरोप,गोली लगने से घायल व्यापारी इंद्रकांत त्रिपाठी की मौत

महोबा. उत्तर प्रदेश के महोबा के बहुचर्चित विस्फोटक व्यापारी गोलीकांड में निलंबित एसपी मणिलाल पाटीदार (IPS Manilal Patidar) की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं. गोली लगने से घायल हुए व्यापारी इंद्रकांत त्रिपाठी (Indrakant Tripathi) ने रविवार शाम कानपुर रीजेंसी अस्पताल में इलाज के दौरान तोड़ दिया. बता दें इंद्रकांत त्रिपाठी ने वीडियो वायरल कर पूर्व एसपी पाटीदार पर रंगदारी मांगने और जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया था. इसी मामले में पाटीदार के खिलाफ आईपीसी की धारा 307 और 120बी के तहत केस दर्ज है. अब व्यापारी इंद्रकांत त्रिपाठी की मौत के बाद उनके ऊपर हत्या का केस दर्ज होना तय माना जा रहा है.

गौरतलब है कि बीते 8 सितंबर 2020 को झांसी-मिर्जापुर हाइवे पर सदिग्ध परिस्थितियों में व्यापारी को गोली लगी थी. इसके बाद उनका एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें उन्होंने पूर्व एसपी मणिलाल पाटीदार पर गंभीर आरोप लगाए थे. इस मामले में मणिलाल पाटीदार, पूर्व एसओ देवेंद्र शुक्ला सहित 4 नामजद, व अधीनस्थों पर केस दर्ज किया गया है.

एसपी पर गंभीर आरोप
बता दें कि इंद्रकांत त्रिपाठी का क्रशर है और वे माइनिंग के लिए विस्फोटक सप्लाई करते थे. 5 सितंबर को इद्रकांत त्रिपाठी ने एक वीडियो वायरल कर आरोप लगाया था कि एसपी मणिलाल पाटीदार के दबाव में उन्हें 6 लाख रुपये महीना घूस देते हैं. लेकिन, लॉकडाउन में धंधा मंदा हो जाने की वजह से जब उन्होंने आगे से घूस देने में असमर्थता ज़ाहिर की तो एसपी ने उनसे कहा कि अगर पैसा नहीं दोगे तो तुम्हें गोली मरवा देंगे. हमारे पास इतनी बड़ी फ़ोर्स है कि कोई तुम्हें कहीं भी गोली मार देगा. इसके बाद 8 सितंबर को उन्हें गोली मार दी गई. मामले में 9 सितंबर को आईपीएस मणिलाल पाटीदार को सस्पेंड करते हुए उनके खिलाफ हत्या की कोशिश की एफआईआर दर्ज की गई.
इंद्रकांत त्रिपाठी गोलीकांड से पहले का भी ऑडियो वायरल

इंद्रकांत गोली कांड से पहले का धमकी भरा एक ऑडियो भी वायरल हो रहा है. इस ऑडियो में टॉप 10 अपराधी आशु भदौरिया व्यापारी के साले को धमकी देता नजर आ रहा है. वह कह रहा है कि राजा साहब के नाराज होने पर अंजाम भुगतना होगा. बताया जा रहा है कि गोली मारने के चंद घंटे पहले ही यह धमकी दी गयी थी.

कौन है राजा साहब?
मामले में अब पुलिस की जांच राजा साहब नामक शख्स पर अटकी है. आखिर कौन है राजा साहब जिसका जिक्र टॉप 10 अपराधी आशु भदौरिया कर रहा है. अपराधी आशु भदौरिया के वायरल ऑडियो के बाद गोली कांड के कनेक्शन को लेकर जिले में चर्चा हA5 रही है कि कहीं माफिया-अपराधी और अधिकारी के गठबंधन से तो गोली नहीं मारी गई थी?