Breaking News बड़ी खबर बिहार

पटना- चार अगस्त से ही एम्स में भर्ती थे रघुवंश बाबू, सांस लेने में हो रही थी तकलीफ

पटना. इस वक्त की बड़ी खबर बिहार के सियासी हलके से आ रही है जहां कद्दावर नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह (RJD leader Raghuvansh Prasad Singh) का निधन हो गया है. रघुवंश प्रसाद सिंह पिछले 4 अगस्त से ही दिल्ली के एम्स में इलाजरत थे और वह पिछले 4 दिनों से लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर चल रहे थे. उनके निधन की पुष्टि परिवार के लोगों ने भी की है. इससे पहले उनके निधन को लेकर सुबह से ही अफवाह ही उड़ गए थे लेकिन इसका परिवार के लोगों ने खंडन किया था उनके परिवार से जुड़े लोगों ने न्यूज 18 को बताया था कि ये बात सही है कि उनकी हालत नाजुक है और ऑक्सीजन लेवल घट रहा है.

सांस लेने में थी तकलीफ

उनको सांस लेने में भी दिक्कत हो रही थी. दिल्ली के एम्स में इलाजरत रघुवंश बाबू की निगरानी 4 डॉक्टर अभी ICU में कर रहे थे. रघुवंश बाबू के परिवारवालों ने बताया था कि वो अभी भी वेंटिलेटर पर ही हैं और उनकी स्थिति नाजुक बनी हुई है. उनके साथ-साथ उनके दोनों बेटे भी AIIMS में ही थे. मालूम हो कि रघुवंश प्रसाद सिंह का इलाज 4 अगस्त से ही दिल्ली स्थित एम्स में चल रहा था और वो पिछले चार दिनों से वेंटिलेटर पर थे.

आरजेडी से दिया था इस्तीफा
मालूम हो कि पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह ने कुछ दिन पहले की आरजेडी से इस्तीफा था. दिल्ली एम्स में भर्ती रघुवंश प्रसाद सिंह ने अपना इस्तीफा एक सामान्य पन्ने पर लिखकर भेजा था. इसमें उन्होंने आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को संबोधित करते हुए लिखा था कि जननायक कर्पूरी ठाकुर के निधन के बाद 32 वर्षों तक आपके पीछे-पीछे खड़ा रहा, लेकिन अब नहीं. पार्टी नेता, कार्यकर्ता और आमजनों ने बड़ा स्नेह दिया. मुझे क्षमा करें