Breaking News नई दिल्ली बड़ी खबर

प्रतापगढ़: अवैध असलहा फैक्ट्री का भंडाफोड़, प्रधानी चुनाव में आतंक फैलाने की थी तैयारी

प्रतापगढ़. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के प्रधानी चुनाव (Pradhan Election) में आतंक फैलाने के लिए तैयार हो रहे अवैध असलहों की फैक्ट्री (Illegal Arms Factory) का भंडाफोड़ प्रतापगढ़ (Pratapgarh) पुलिस (Police) ने किया है. पुलिस ने अवैध असलहा फैक्ट्री संचालित करने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए तीन तस्कर को भी गिरफ्तार किया है. साथ ही पुलिस ने घर पर छापेमारी करते हुए 13 तमंचा, ऑक्सीजन सिलेंडर, कार्बेट टंकी, हथौड़ी, छेनी, के साथ ही असलहा बनाने के तमाम उपकरण को बरामद किया है.

ग्राम प्रधान ने दिया था अवैध असलहों का आर्डर

असलहा बनाने वाले इस गैंग ने पुलिस पूछताछ में चौकाने वाले खुलासे किये है. असलहा तस्करी का काम पिता-पुत्र एक साथ अंजाम दिए करते थे. पहले असलहा को बनाया जाता था फिर उसको मार्केट में बेचा जाता था. आरोपी राजू उर्फ मोइन ने पूछताछ के बताया है कि जब्त दर्जन भर असलहा ग्राम प्रधान के चुनाव लड़ने के लिए तैयार कराया जा रहा था. जिसका आर्डर ग्राम प्रधान आजाद ने दिया था. उसका कहना था कि प्रधानी का चुनाव के दौरान ये अवैध तमंचे काम आएंगे.

पहले भी जा चुका है जेल
पुलिस ने पिता पुत्र राजू उर्फ मोइन और मुस्कान के साथ ही सोनू पाल को गिरफ्तार किया है. तीनों को जेल भेजा गया है. मामले में अभी एक अभियुक्त फरार है, जिसकी गिरफ़्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है. असलहा तस्करी का मुख्य आरोपी राजू उर्फ मोइन पहले भी असलहा फैक्ट्री संचालित करने के आरोप में जेल जा चुका है. आरोपी मुम्बई में रहता था, लेकिन लॉकडाउन के दौरान वह प्रतापगढ़ पहुंचा और फिर से बेटे के साथ असलहा बनाने और बेचने का काम करने लगा.