Breaking News उत्तर प्रदेश बड़ी खबर

मेरठ में डबल मर्डर और लव जिहाद का मुख्य आरोपी शमशाद पुलिस मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार

मेरठ. मेरठ (Meerut) के परतापुर थानाक्षेत्र के भूडबराल में मां-बेटी की हत्या (Double Murder) कर घर में ही शव दफनाने के मामले में फरार चल रहा मुख्य आरोपी शमशाद को पुलिस (Police) ने एनकाउंटर (Encounter) के बाद गिरफ्तार (Arrest) कर लिया. गुरुवार को ब्रम्हपुरी थानाक्षेत्र अंतर्गत नूरनगर मोड़ पर शमशाद को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया गया. मुठभेड़ के दौरान आरोपी पैर में गोली लगने से घायल भी हुआ है. लिहाज़ा इसको इलाज के लिए ज़िला अस्पताल ले जाया गया है. आरोपी के पास से पिस्टल, कारतूस और मोटरसाइकिल बरामद की गई है. आरोपी के खिलाफ खरखौदा और परतापुर थाने में मुकदमें पंजीकृत हैं.

परतापुर के भूड़बराल के रहने वाले शमशाद पर आरोप है कि इसने पहले महिला को अपने प्रेम जाल में फंसाया. अपना धर्म छुपाया. शादी का झांसा दिया और जब महिला को सारा राज़ मालूम चल गया तो उसने इसे रास्ते से हटा दिया. न सिर्फ इसने महिला को मारा बल्कि उसकी दस साल की बेटी को भी मौत के घाट उतार दिया. आरोप है कि शमशाद ने अपनी पत्नी और साले के साथ मिलकर इस जघन्य वारदात को अंजाम दिया. अब पुलिस शमशाद की पत्नी और साले की भी गिरफ्तारी को लेकर दबिश दे रही है.

घर में दफनाया था मां-बेटी का शव

शमशाद पर आरोप है कि उसने महिला और उसकी दस साल की मासूम बेटी का कत्ल करने के बाद लाश को घर के अंदर ही दफना दिया. लाश गल जाए इसके लिए उसने डेड बॉडीज़ पर नमक भी डाला. यही नहीं बाद में इस शातिर ने घर में खोदे गए गड्ढे को भरा और उपर फर्श भी बनवा दी. यही नहीं फर्श के उपर सोफा रख दिया ताकि किसी को शक न हो. इसके बाद अपने ही मकान में दफन की गई लाशों के बीच ये शख्स रहता भी था. लेकिन कहते हैं न कि गुनाह कभी छिपता नहीं और गुनहगार कभी बचता नहीं. आखिरकार पुलिस ने इसे गिरफ्तार कर ही लिया. इससे पहले कल पुलिस ने साक्ष्य जुटाने को लेकर आरोपी के घर पर भी बुलडोज़र चलाया था. घर का एक हिस्सा पुलिस ने बुलडोज़र से गिरा दिया था.