Breaking News उत्तर प्रदेश बड़ी खबर

प्रयागराज: ऑफिस से दो असलहे जब्त,बाहुबली अतीक अहमद पर कसा शिकंजा

प्रयागराज. जेल में बंद बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद (Atiq Ahmad) के कार्यालय से पुलिस (Police) ने दो असलहे बरामद किए हैं. पुलिस ने एक राइफल और एक पिस्टल चकिया स्थित कार्यालय से बरामद किया. अतीक अहमद के जेल जाने के बाद 2017 में असलहों का लाइसेंस निरस्त कर दिया गया था. लाइसेंस निरस्त करने के बाद भी असलहे जमा नहीं कराए गए थे. मार्च 2020 में पुलिस ने अतीक के खिलाफ खुल्दाबाद थाने में दो एफआईआर भी दर्ज की थी. एसएसपी अभिषेक दीक्षित ने यह जानकारीदी.

एसएसपी ने बताया कि अतीक अहमद के जेल जाने के बाद साल 2017 में शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिया गया था. शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिए जाने के बावजूद अतीक ने असलहे जमा नहीं कराए थे. एसएसपी ने कहा कि इस मामले में अतीक के खिलाफ पुलिस ने इसी साल मार्च महीने में दो एफआईआर दर्ज की थी.

अतीक के पास इतने असलहे

अतीक अहमद के नाम दो असलहों का लाइसेंस था जिसे निरस्त किया जा चुका है. लेकिन असलहे जमा नहीं कराए गए. अब पालिक एने उसे जब्त किया है. अतीक के अलावा उसकी पत्नी शाइस्ता परवीन के नाम से तीन लाइसेंसी असलहा है, जिसमें एक रिवॉल्वर, एक राइफल और एक एसबीबीएल है. तीनों असलहों को पुलिस ने पहले ही जमा करा लिया है. इनका लाइसेंस निरस्त किया जा चुका है. वहीं अतीक अहमद के भाई पूर्व विधायक अशरफ के नाम से एक पिस्टल का लाइसेंस है, जिसे अशरफ ने जमा नहीं किया है, जबकि लाइसेंस निरस्त हो चुका है. असलहा जमा न करने पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है. अतीक अहमद के साढ़ू इमरान के नाम से एक राइफल, एक डीबीबीएल और एक रिवाल्वर का लाइसेंस है. तीनों असलहों का लाइसेंस निरस्त किया जा चुका है. फरार इमरान और दुर्रानी की तलाश में छापेमारी चल रही है.

माफियाओं पर हो रही कार्रवाई

गौरतलब है कि यूपी पुलिस माफियाओं के खिलाफ लगतार एक्शन ले रही है. अतीक से पहले पूर्वांचल के एक अन्य माफिया मुख़्तार अंसारी के खिलाफ भी कई जिलों में ताबड़तोड़ कार्रवाई की गई है. मुख़्तार अंसारी के रिश्तेदारों और करीबियों के दर्जनों असलहे जब्त किए गए हैं. इसके अलावा मुख़्तार गैंग के करीबियों पर भी शिकंजा कसा है. पुलिस ने करोड़ों की चल और अचल सम्पत्ति कुर्क की है.