Breaking News बड़ी खबर राजस्थान

Weather update: अन्य इलाकों में भी हो सकती है मानसून की मेहर,आज 3 जिलों में भारी बारिश के आसार

जयपुर. राजस्थान में मानसून (Monsoon) की लगातार सक्रियता के बावजूद अभी तक सामान्य से 6 फीसदी कम बारिश हुई है. मौसम विभाग (Weather department) के अनुसार, प्रदेश में अगस्त माह में इस अवधि तक बारिश 421.69 मिलीमीटर बारिश होनी चाहिये, लेकिन अभी तक 394.71 मिलीमीटर ही बारिश हुई है. फिलहाल एक बार फिर से मानसून की गतिविधियां कमजोर पड़ी हुई हैं, लेकिन वे थमी नहीं है. मौसम विभाग ने शुक्रवार को भी प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश (Rain) के आसार जताये हैं.

मौसम विभाग ने शुक्रवार के लिये 3 जिलों में येलो अलर्ट जारी किया है. बारां, सवाईमाधोपुर और करौली में कहीं कहीं भारी बारिश हो सकती है. इसके अलावा उदयपुर, भरतपुर, जयपुर, अजमेर और कोटा संभाग में अनेक स्थानों पर सामान्य बारिश के आसार जताए गये हैं.
अभी कसक बाकी है
वाटर रिसोर्सेज डिपार्टमेंट ने अब तक प्रदेश में लगभग सामान्य बारिश होने का दावा किया है. विभाग के अनुसार प्रदेश के 22 जिलों में सामान्य और 3 जिलों में असामान्य बारिश हो चुकी है. प्रदेश के 8 जिलों में सामान्य से कम बारिश दर्ज की गई है. ऑवरऑल आंकड़ों की बात करें तो अभी भी प्रदेश में सामान्य से 6 फीसदी कम बारिश दर्ज की गई है.

अगस्त माह में हुई है बारिश की पूर्ति
इस बार मानसून की शुरुआती दौर में राजस्थान में चाल काफी धीमी रही थी. इसके चलते पहले फेज में कुछ ही इलाकों में बारिश हुई और अन्य इलाके सुखे रहे. लेकिन अगस्त माह के पहले सप्ताह में मानसून ने सक्रियता दिखानी शुरू की. उसके बाद प्रदेश के कई इलाकों में बादल जमकर बरसे. इस दरम्यिान राजधानी जयपुर में हुई भारी बारिश ने बाढ़ के हालात पैदा दिये थे. वहीं मेवाड़ अंचल के कई इलाकों में भी भारी बारिश हुई.
माही बांध छलका तो खोलने पड़े सभी 16 गेट
राजस्थान के दक्षिणी हिस्से में स्थित बांसवाड़ा जिले में हुई भारी बारिश के बाद वहां नदी नाले उफान पर आ गये थे. वहीं उसके आसपास के इलाकों और पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश में हुई भारी बारिश के कारण माही बांध में पानी की जोरदार आवक हुई. तीन दिन में ही बांध के पानी का स्तर 9 मीटर से ज्यादा बढ़ गया. इससे माही बांध ओवर फ्लो हो गया और उसके सभी 16 गेट खोलने पड़े थे.